December 7, 2022 4:08 pm
featured देश राज्य

मायावती ने शिवपाल यादव पर कसा तंज, अखिलेश भी नहीं रोक पाए हंसी

अखिलेश यादव और मायावती की कॉन्फेंस मायावती ने शिवपाल यादव पर कसा तंज, अखिलेश भी नहीं रोक पाए हंसी

सपा-बसपा पार्टी के बीच गठबंधन हुआ इसकी घोषणा आज दोनों पार्टियों के अध्यक्षों ने लखनऊ में साझा कॉन्फ्रेंस के जरिए की है। इस कॉन्फ्रेंस में बसपा सुप्रीमो मायावती ने एक बयान दिया जिस पर पूरा प्रेस कॉन्फ्रेंस की खिलखिलाहट सुनाई दी। इस दौरान सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव भी अपनी हंसी नहीं रोक पाए। गौरतलब है कि मायावती ने शिवपाल यादव तंज कसा। मालूम हो कि शिवपाल यादव ने सपा से अलग होकर अपनी नई पार्टी बनाई है।

अखिलेश यादव और मायावती की कॉन्फेंस मायावती ने शिवपाल यादव पर कसा तंज, अखिलेश भी नहीं रोक पाए हंसी

इसे भी पढ़ें-बसपा सुप्रीमो मायावती अपने जन्मदिन पर कर सकती हैं सपा-बसपा गठबंधन का एलान

दरअसल प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान मायावती ने अखिलेश यादव के चाचा और समाजवादी प्रगतिशील पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष शिवपाल सिंह यादव का जिक्र किया। उन्होंने कहा कि हमारे गठबंधन से डरकर बीजेपी अखिलेश यादव का नाम खनन घोटाले शामिल किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि बीजेपी सीबीआई का दुरुपयोग कर रही है। बीजेपी की इस हरकत से सपा और बसपा का गठबंधन और मजबूत हो गया है। मायावती ने कहा कि शिवपाल यादव पर पानी की तरह बहाया गया बीजेपी का पैसा भी बरबाद चला जाएगा।

मायावती ने कहा कि पर्दे के पीछे से बीजेपी द्वारा चलाई जा रही शिवपाल यादव की पार्टी समेत मुस्लिमों, दलितों और पिछड़ों के नाम पर बनाई गई पार्टियों और बीजेपी के संगठन के द्वारा खड़े किए प्रत्याशियों को प्रदेश के लोग अपना वोट देकर बर्बाद नहीं करेंगे। यूपी की जनता हमारे पवित्र और भाईचारे पर आधारित गठबंधन को नुकसान नहीं पहुंचाएगी।उत्तर प्रदेश की जनता से गठबंधन के प्रत्याशियों को वोट देने की अपील की है।

इसे भी पढ़ें-अलग मोर्चा बनाने पर आजम खान ने दी शिवपाल यादव को हिदायत,

मायावती ने कहा कि सर्व समाज के लोग इन बिकी हुई पार्टियों को वोट नहीं देकर गठबंधन के प्रत्याशियों को जिताएंगे। इससे ही सर्वजन हिताय और सर्वजन सुखाय का सपना पूरा होगा। मालूम हो कि उत्तर प्रदेश में सपा और बसपा का गठबंधन हो गया है। दोनों पार्टियां प्रदेश की 80 सीटों में से 38-38 सीटों पर चुनाव लड़ेगी। शेष दो सीटों को सहयोगी पार्टियों के लिए छोड़ा गया है। इसके अलावा अमेठी और रायबरेली सीट पर गठबंधन की ओर से कोई प्रत्याशी नहीं खड़ा किया जाएगा।

इसे भी पढ़ें-सपा-बसपा गठबंधन पर बोलीं मायावती, कहा गेस्ट हाउस कांड से ऊपर है देश हित

Related posts

सरकार ने दी सोशल मीडिया प्लेटफार्मों को चेतावनी, गलत खबरों पर लगाएं रोक

mahesh yadav

सुप्रीम कोर्ट ने वापस लिए जस्टिस कर्णन के सभी अधिकार

kumari ashu

पीएम मोदी कल जारी करेंगे किसान सम्मान निधि योजना की तीसरी किस्‍त

Shailendra Singh