November 30, 2022 3:41 pm
featured देश राज्य

बसपा सुप्रीमो मायावती अपने जन्मदिन पर कर सकती हैं सपा-बसपा गठबंधन का एलान

mayawati बसपा सुप्रीमो मायावती अपने जन्मदिन पर कर सकती हैं सपा-बसपा गठबंधन का एलान

नई दिल्ली। बसपा सुप्रीमो मायावती बृहस्पतिवार को लखनऊ पहुंच गई। 15 जनवरी को अपने जन्मदिन पर वह सपा-बसपा गठबंधन का एलान कर सकती है। उन्होंने 20 जनवरी को बसपा के पदाधिकारियों की बैठक बुलाई है। इसमें वह चुनावी रणनीति का खुलासा करेंगी। 22 जनवरी को वह भाईचारा कमेटी की बैठक में लोकसभा चुनाव को लेकर दिशा-निर्देश देंगी। लोकसभा चुनाव को लेकर सपा और बसपा में गठबंधन को लेकर सहमति बन गई है। मायावती और अखिलेश के बीच दिल्ली में हुई लंबी बैठक में सीटों के बंटवारे को लेकर भी लगभग आम राय बन गई है। उनके बीच एक और बैठक होगी। इसके बाद तय हो जाएगा कि कौन का दल, किस सीट पर चुनाव लड़ेगा।

mayawati बसपा सुप्रीमो मायावती अपने जन्मदिन पर कर सकती हैं सपा-बसपा गठबंधन का एलान

बता दें कि ऐसी संभावना है कि उनके बीच अगली मुलाकात लखनऊ में ही होगी। 15 जनवरी को मायावती के जन्मदिन पर अखिलेश यादव समेत कई प्रमुख नेता उन्हें बधाई देने जाएंगे। उस दिन प्रदेश में सपा-बसपा के बीच गठबंधन की औपचारिक घोषणा की जा सकती है। यह भी हो सकता है कि एक-दो दिन बाद इसका एलान हो। दरअसल, मायावती लोकसभा सीटों का फाइनल बंटवारा हो जाने तक गठबंधन की विधिवत घोषणा नहीं करना चाहती हैं।

वहीं इस बीच मायावती ने 20 जनवरी को पार्टी के पदाधिकारियों, कोऑर्डिनेटर व अन्य प्रमुख नेताओं की बैठक बुलाई है। पहले यह बैठक 10 जनवरी को प्रस्तावित थी। 22 जनवरी को भाईचारा कमेटियों की बैठक प्रस्तावित है। ये बैठकें काफी अहम बताई जा रही हैं। इनमें बसपा के सभी प्रमुख नेता शामिल होंगे। माना जा रहा है कि मायावती चुनावी रणनीति को लेकर उन्हें विस्तृत दिशा निर्देश देंगी। यह भी बता सकती हैं कि गठबंधन का स्वरूप क्या होगा, बसपा किन-किन सीटों पर चुनाव लड़ेगी। बृहस्पतिवार को राजधानी पहुंचने के बाद मायावती ने पार्टी के चुनिंदा नेताओं से राजनीतिक हालात पर चर्चा की। मायावती के लखनऊ पहुंचने के बाद बसपा कार्यालय पर खासी गहमागहमी नजर आई।

साथ ही प्रदेश में महागठबंधन को लेकर सपा-बसपा से मिले झटके के बाद कांग्रेस ने प्रदेश में लोकसभा चुनाव अपने दम पर लड़ने की तैयारी शुरू कर दी है। पहले चरण कांग्रेस सबसे मजबूत सीटों को चिह्नित कर रही है। ऐसी 40-45 सीटों पर जल्द ही प्रत्याशी चयन की प्रक्रिया प्रारंभ होगी। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के इसी महीने अमेठी दौरे के बाद कांग्रेस अपने रुख का खुलासा करेगी। तब तक सपा-बसपा के गठबंधन का एलान हो सकता है। इसी के बाद कांग्रेस अपने पत्ते खोलेगी। कांग्रेस कई छोटे दलों से गठबंधन कर सकती है।

Related posts

सीएम त्रिवेन्द्र सिंह ने किया 1500 किलोवॉट की दुनाव लघु जल विद्युत परियोजना लोकार्पण

Breaking News

Ind vs Sri: भारत ने लगातार जीती 9वीं सीरीज, श्रीलंका को 1-0 से चटाई धूल

Breaking News

बंगाल चुनाव के लिए बीजेपी ने शुरू किया ‘NRI फ़ॉर सोनार बंगला’ प्रोजेक्ट, जानें चुनाव में इसकी भूमिका

Aman Sharma