January 29, 2022 12:33 pm
featured यूपी

उत्तर प्रदेश में शुरू हुआ घर-घर ​स्वास्थ्य निगरानी अभियान, वायरल फीवर, कोविड के लक्षणों वाले लोगों की होगी पहचान

images 37 उत्तर प्रदेश में शुरू हुआ घर-घर ​स्वास्थ्य निगरानी अभियान, वायरल फीवर, कोविड के लक्षणों वाले लोगों की होगी पहचान

उत्तर प्रदेश में योगी आदित्यनाथ सरकार ने आज से एक राज्यव्यापी निगरानी अभियान शुरू किया है, जिसके तहत स्वास्थ्य अधिकारी घर-घर जाकर वायरल बुखार, कोविड के लक्षणों और मौसमी अनियमितताओं से उत्पन्न होने वाली अन्य बीमारियों वाले लोगों की पहचान करेंगे। यह राज्य में जल जनित रोगों को रोकने के लिए बनाया गया है।

covid 19door to door screening उत्तर प्रदेश में शुरू हुआ घर-घर ​स्वास्थ्य निगरानी अभियान, वायरल फीवर, कोविड के लक्षणों वाले लोगों की होगी पहचान

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आज एक उच्च स्तरीय बैठक को संबोधित करते हुए संबंधित अधिकारियों को अस्पतालों की ओपीडी/आईपीडी में केवल गंभीर रोगियों को भर्ती करने के लिए कहा। स्वास्थ्य टीमों को निर्देश दिया गया है कि जिन क्षेत्रों में डेंगू के एक से अधिक मरीज पाए जाते हैं, वहां एंटी लार्वा का छिड़काव करें और फॉगिंग ड्राइव करें। लोगों को अपने घरों और आसपास मच्छरों के प्रजनन को रोकने के लिए एहतियाती उपाय करने की भी सलाह दी गई है।

उन्होंने कहा कि ग्रामीण और शहरी क्षेत्रों में निर्धारित दिशा-निर्देशों के मुताबिक स्रोत कम करने की गतिविधियाँ नियमित रूप से संचालित की जानी चाहिए। उन्होंने कहा, “सुनिश्चित करें कि मरीजों के स्वास्थ्य संबंधी अपडेट नियमित अंतराल पर परिवार के सदस्यों को दिए जाते हैं। मरीजों और उनके रिश्तेदारों से भी सीएम हेल्पलाइन के माध्यम से संपर्क किया जाना चाहिए।” मुख्यमंत्री ने आगे आदेश दिया है कि पंचायती राज, शहरी विकास विभाग, नगर पंचायतों, ग्राम विकास, नगर पालिकाओं और नगर निगमों द्वारा जल जनित बीमारियों के खतरे को रोकने के लिए राज्य भर में स्वच्छता और स्वच्छता अभियान शुरू किया जाए।

ये भी पढ़ें —

क्या आप भी रखते हैं एक्टिंग का शौक, तो जान लें ये जरुरी बातें

बाढ़ से निपटने के लिए राज्य के विभिन्न जिलों में NDRF, SDRF और PAC सहित 66 से अधिक टीमों को तैनात किया गया है। ये टीमें प्रभावित गांवों में बाढ़ के प्रभाव को कम करने के लिए चौबीसों घंटे काम कर रही हैं। बाढ़ और भारी बारिश से प्रभावित क्षेत्रों में राहत कार्यों की निगरानी के लिए राज्य के हर जिले में पहले ही नोडल अधिकारी नियुक्त किए जा चुके हैं।

Related posts

गैंगरेप केस में गायत्री पर कसा शिकंजा, चार्जशीट दाखिल

Pradeep sharma

सुप्रीम कोर्ट का आदेश: 36 घंटे में वेबसाइटों से हटे लिंग निर्धारण के विज्ञापन

bharatkhabar

हरदोई में दूसरे दलों से आए कई नेताओं ने थामा सपा का दामन

Aditya Mishra