2bdff577 3347 4a52 bd6a f50a8a60ec07 शातिर काट रहे एयरटेल इंडिया की ऑप्टिकल फाइबर केबल, मुबंई पुलिस में दर्ज की रिपोर्ट
प्रतीकात्मक चित्र

मुबंई। चोर और शातिरों का दबदबा दिनों दिन बढ़ता ही जा रहा है। अपने कारनामों की वजह से मशहूर हो रहे शातिर अपने आप को सुपरस्टार समझने लगे है। ऐसा इसलिए है क्योंकि आए दिन चोरों और शातिरों को हौसलें बुलंद होते जा रहे हैं। ये इतने शातिर हैं कि पुलिस भी इन्हें पकड़ने में नाकाम साबित होती दिखाई दे रही है। ऐसा ही कुछ मामला मुबंई से आ रहा है, जहां शातिर एयरटेल इंडिया के बिछाई गई ऑप्टिकल फाइबर केबल को काट देते है। जिसकी वजह से उनके यूजर्स को बातचीत करने, इंटरनेट का इस्तेमाल करने में दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। जिसके चलते हाल ही में एयरटेल इंडिया के असिस्टेंट नोडल ऑफिसर प्रथमेश मांजरेकर ने इस बात की शिकायत मुंबई के समता नगर पुलिस स्टेशन में कराई। पुलिस ने एयरटेल इंडिया की तरफ से मिली शिकायत पर संज्ञान लेते हुए अज्ञात शख्स के खिलाफ आईपीसी की धारा 427 और इंडियन टेलीग्राफ एक्स की धारा 25 और 25 A के तहत मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

56 लोकेशंस हैं जहां ऑप्टिकल फाइबर केबल को काटा गया-

बता दें कि पुलिस एक ऐसे गिरोह की तलाश कर रही है जो एयरटेल इंडिया के बिछाई गई ऑप्टिकल फाइबर केबल को काट देता है। मुंबई के नॉर्थन सबर्बस इलाके में 56 लोकेशंस पर इस तरह से ऑप्टिकल फाइबर केबल को काटकर उन्हें नुकसान पहुंचाया गया है। मांजरेकर ने पुलिस को बताया पिछले कुछ दिनों से नॉर्थ मुंबई के कुछ हिस्सों से एयरटेल इंडिया के कस्टमर द्वारा कई शिकायतें मिल रही थी जिसमें इंटरनेट का धीमी गति से चलना, बातचीत करते वक्त डिस्टरबेंस आना जैसी समस्याएं सामने आने लगी। जिसके बाद कंपनी ने अपने इंस्पेक्शनअधिकारियों को उन इलाकों में भेजा जहां से ऐसी शिकायतें आ रही थी। इंस्पेक्शन के दौरान एयरटेल के अधिकारियों को यह पता चला कि ऐसे 56 लोकेशंस हैं जहां पर खड्डा खोद कर ऑप्टिकल फाइबर केबल को काटा गया है। मांजरेकर ने पुलिस को यह भी बताया इससे पहले ऐसी ही एक लोकेशन पर जब उनका एक प्रतिनिधि रिपेयरिंग का काम करने गया था तब उस पर कुछ अनजान लोगों ने हमला कर दिया था।

ऑप्टिकल फाइबर केबल कटने से इंटरनेट का इस्तेमाल करने में समस्याएं आने लगती-

मांजरेकर के मुताबिक उनके रिपेयरिंग स्टाफ जब भी किसी एक जगह पर केबल को दुरुस्त करते थे तब तक उन्हें पता चलता था इसी प्रकार केबल को किसी और भी लोकेशन पर काट दिया गया है। कोरोना के संकटकाल में कई ऐसे लोग हैं जो आज भी अपने घरों से ही काम कर रहे हैं। उनके लिए सबसे महत्वपूर्ण चीज अगर कुछ है तो वह है इंटरनेट।  ऐसे में अगर ऑप्टिकल फाइबर केबल कहीं कट जाती है तो लोगों को इंटरनेट का इस्तेमाल करने में समस्याएं आने लगती है और हमें ऐसी कई शिकायतें मिली है।

दिग्विजय सिंह ने अपनी ही पार्टी पर कसा तंज, 100 किलोमीटर की दांडी यात्रा को हरी झंडी दिखाकर किया रवाना

Previous article

सपा ने किया ‘किसान घेरा’ कार्यक्रम का आयोजन, अखिलेश यादव ने कृषि कानून को बताया एक बड़ा छलावा

Next article

You may also like

Comments

Comments are closed.