February 3, 2023 5:02 am
featured देश

गुजरात सरकार का बड़ा फैसला, यूनिफॉर्म सिविल कोड का ड्राफ्ट तैयार करने के लिए कमेटी बनाने की घोषणा, रिटायर्ड जज होंगे अध्यक्ष

FotoJet 2022 02 23T191504.449 1 गुजरात सरकार का बड़ा फैसला, यूनिफॉर्म सिविल कोड का ड्राफ्ट तैयार करने के लिए कमेटी बनाने की घोषणा, रिटायर्ड जज होंगे अध्यक्ष

 

गुजरात में यूनिफॉर्म सिविल कोड का ड्राफ्ट तैयार करने और इसे लागू करने के लिए कमेटी बनाने की घोषणा की गई है।

यह भी पढ़े

CM YOGI ने दी स्वीकृति ,IAS अधिकारी रेणुका कुमार का वीआरएस मंजूर, विकास गोठलवाल का फंसा पेंच

 

राज्य के CM भूपेंद्र पटेल ने ट्वीट किया कि राज्य कैबिनेट ने सुप्रीम कोर्ट या हाईकोर्ट के रिटायर्ड जज की अध्यक्षता में एक उच्च स्तरीय कमेटी बनाने का फैसला किया है। यह कमेटी गुजरात में यूनिफॉर्म सिविल कोड की जरूरत की समीक्षा करेगी साथ ही यूनिफॉर्म सिविल कोड का ड्राफ्ट तैयार करेगी। गुजरात में समान नागरिक संहिता लागू करने के लिए समिति के गठन को कैबिनेट की हरी झंडी मिल गई है।

 

995857 bp गुजरात सरकार का बड़ा फैसला, यूनिफॉर्म सिविल कोड का ड्राफ्ट तैयार करने के लिए कमेटी बनाने की घोषणा, रिटायर्ड जज होंगे अध्यक्ष

 

इसके लिए सभी पहलुओं का मूल्यांकन करने के लिए उत्तराखंड की तरह एक सेवानिवृत्त उच्च न्यायालय के न्यायाधीश के तहत एक समिति गठित होगी। केंद्रीय मंत्री पुरुषोत्तम रूपाला ने इसकी जानकारी देते हुए बताया कि समिति सेवानिवृत्त हाईकोर्ट के न्यायाधीश की अध्यक्षता में होगी और इसमें तीन से चार सदस्य होंगे।  उत्तराखंड की तरह राज्य में समान नागरिक संहिता लाने की तैयारी हो रही है। इसी के लिए कमेटी के गठन को मंजूरी दी गई है। इस कमेटी की अध्यक्षता हाईकोर्ट के सेवानिवृत्त न्यायाधीश करेंगे।

 

FotoJet 2022 02 23T191504.449 1 गुजरात सरकार का बड़ा फैसला, यूनिफॉर्म सिविल कोड का ड्राफ्ट तैयार करने के लिए कमेटी बनाने की घोषणा, रिटायर्ड जज होंगे अध्यक्ष

यूनिफार्म सिविल कोड क्या है?

यूनिफार्म सिविल कोड यानी समान नागरिक संहिता का मतलब है कि सभी नागरिकों के लिए एक समान नियम। यानी भारत में रहने वाले हर नागरिक के लिए एक समान कानून होगा, फिर वह चाहे किसी भी धर्म या जाति का हो। इसके लागू होने पर शादी, तलाक, जमीन जायदाद के बंटवारे सभी में एक समान ही कानून लागू होगा, जिसका पालन सभी धर्मों के लोगों को करना अनिवार्य होगा।

Related posts

जैसलमेर: साईकिल रैली हुई रवाना, 12 साईकिल चालकों की टीम 12 दिनों में तय करेगी 1000 KM की दूरी

Rahul

प्रदेश के विकास में सहयोगी बनें प्रवासी उत्तराखंड वासी – मुख्यमंत्री

Shubham Gupta

राजस्थान: पंजाब के बाद क्या राजस्थान में होगा नेतृत्व परिवर्तन, सिद्धू की तरह पायलट भी कर पाएंगे ‘खेला’?

Saurabh