Navratri2019 1 Chaitra Navratri 2021: घोड़े पर सवार हो कर आ रही हैं देवी, जानें घटस्थापना का शुभ मुहूर्त और तिथियां !

पंचांग के अनुसार नवरात्रि का पर्व इस वर्ष 13 अप्रैल को मनाया जाएगा. इस दिन चैत्र मास की शुक्ल पक्ष की प्रतिपदा तिथि रहेगी. इस दिन अश्विनी नक्षत्र और विश्कुंभ योग बन रहा है. इसी दिन घटस्थापना की जाएगी.

चैत्र घटस्थापना मंगलवार, अप्रैल 13, 2021 को
घटस्थापना मुहूर्त – 05:58 A.M से 10:14 A.M
अवधि – 04 घण्टे 16 मिनट्स
घटस्थापना अभिजित मुहूर्त – 11:56 A.M से 12:47 P.M
अवधि – 00 घण्टे 51 मिनट्स
घटस्थापना मुहूर्त प्रतिपदा तिथि पर है.

चैत्र नवरात्रि का समापन 22 अप्रैल 2021 को किया जाएगा.
प्रतिपदा तिथि प्रारम्भ – अप्रैल 12, 2021 को 08:00 A.M बजे
प्रतिपदा तिथि समाप्त – अप्रैल 13, 2021 को 10:16 A.M बजे

इस वर्ष देवी घोड़े पर सवार हो कर आ रही हैं

इस बार का परिणाम इस नवरात्रि में देवी घोड़े पर सवार होकर आ रही है। घोड़ा युद्ध का प्रतीक है, इसलिए पड़ोसी देशों से युद्ध जैसे हालात रहेंगे। सीमाओं पर तनाव बना रहेगा। देश के भीतर राजा को आंतरिक गतिरोध और भारी विरोधों का सामना करना पड़ेगा।

इस वर्ष देवी भैंसे पर सवार हो कर जायेंगी

इस बार नवरात्रि का समापन रविवार को हो रहा है। रविवार का वाहन भैंसा होता है। देवी का भैंसे पर सवार होकर जाना रोगों में वृद्धि होने का संकेत है। जनता रोगों से पीडि़त रहेगी। लोगों में निराशा और भय का माहौल रहेगा।

इस प्रकार भगवती का आना जाना शुभ और अशुभ फल सूचक हैं। इस फल का प्रभाव यजमान पर ही नहीं अपितु सभी पर पड़ता हैं।

देवी के आगमन व गमन का वाहन एवं फल इसके लिए भी देवी भागवत पुराण में एक श्लोक है-

गजे च जलदा देवी क्षत्र भंग स्तुरंगमे।
नौकायां सर्वसिद्धिस्या दोलायां मरणंधुवम्।।

अर्थात्- देवी जब हाथी पर सवार होकर आती है तो वर्षा ज्यादा होती है। घोड़े पर आती हैं तो पड़ोसी देशों से युद्ध की आशंका बढ़ जाती है। देवी नौका पर आती हैं तो सभी के लिए सर्वसिद्धिदायक होता है और डोली पर आती हैं तो किसी महामारी से मृत्यु का भय बना रहता हैं। देवी के जाने का वाहन माता दुर्गा जिस प्रकार किसी वाहन पर सवार होकर आती हैं, वैसे ही जाती भी किसी वाहन पर हैं। नवरात्रि के अंतिम दिन के अनुसार उनके जाने का वाहन तय होता है।

चैत्र नवरात्रि की तिथियां

पहला दिन- 13 अप्रैल 2021- शैलपुत्री
दूसरा दिन- 14 अप्रैल 2021- ब्रह्मचारिणी
तीसरा दिन- 15 अप्रैल 2021- चंद्रघंटा
चौथा दिन- 16 अप्रैल 2021- कूष्मांडा
पांचवां दिन- 17 अप्रैल 2021- स्कंदमाता
छठा दिन- 18 अप्रैल 2021- कात्यायनी
सातवां दिन- 19 अप्रैल 2021- कालरात्रि
आठवां दिन- 20 अप्रैल 2021- महागौरी
नौवां दिन- 21 अप्रैल 2021- सिद्धिदात्री

माँ दुर्गा आप सभी को “रिद्धि दे, सिद्धि दे, वंश में वृद्धि दे, ह्रदय में ज्ञान दे, चित्त में ध्यान दे, अभय वरदान दे, दुःख को दूर कर, सुख भरपूर कर, आशा को संपूर्ण कर, सज्जन जो हित दे, कुटुंब में प्रीत दे, जग में जीत दे, माया दे, साया दे, और निरोगी काया दे, मान-सम्मान दे, सुख समृद्धि और ज्ञान दे, शान्ति दे, शक्ति दे, भक्ति भरपूर दें…”

PANDIT AKSHAY SHARMA Chaitra Navratri 2021: घोड़े पर सवार हो कर आ रही हैं देवी, जानें घटस्थापना का शुभ मुहूर्त और तिथियां !

 

पं अक्षय शर्मा
9837378309

लखनऊ का यह बड़ा फैमिली बाजार कोरोना की चपेट में, 200 मीटर में मिले 20 संक्रमित

Previous article

यूपी पंचायत चुनाव की ‘सप्रेम भेंट’ पर पुलिस का प्रहार, छह गिरफ्तार

Next article

You may also like

Comments

Comments are closed.

More in featured