शहर से लेकर गांव तक स्वदेशी जागरण मंच चला रहा अभियान

देहरादून। स्वदेशी जागरण मंच की ओर से विदेशी वस्तुओं के वहिष्कार व देशी वस्तुओं के उपयोग से स्वरोजगार को बढ़ावा देने के ​लिए लोगों को जागरूक करने के लिए शहर से लेकर गांव तक अभियान चलाया जा रहा है। अभियान को गति देने के लिए स्वदेशी मेला से लेकर स्कूल, कालेज में गोष्ठी व अन्य प्रचार प्रसार को माध्यम बनाया जा रहा है। स्वदेशी जागरण मंच के प्रदेश संयोजन सुरेन्द्र सिंह ने हाल ही में केन्द्रीय कपड़ा राज्य मंत्री अजय टम्टा से मिलकर उत्तराखण्ड में पलायन को रोकने के लिए स्वरोजगार को बढ़ावा देने पर चर्चा की। साथ ही मंत्री टम्टा से स्वदेशी वस्तुओं के ज्यादा से ज्यादा प्रयोग कैसे हो इस बात को लेकर भी चर्चा की। इस दौरान मंत्री ने स्वदेशी व पलायन पर मंत्रालय की ओर से सहयोग करने का आश्वासन दिया।

Swadeshi Jagran Forum
Swadeshi Jagran Forum

बता दें कि स्वदेशी जागरण मंच के प्रदेश संयोजक सुरेन्द्र सिंह ने हिन्दुस्थान समाचार को बताया कि विदेशी कंपनियां भारत से अरबों रुपयों की कमाई कर रही है। इस धन का उपयोग भारत के बजाय दूसरे देशों में हो रहा है जिससे हमारे यहां बेरोजगारी बढ़ रही है। उत्तराखण्ड सीमा से सटे गांवों से लगातार पलायन जारी है। ऐसे में हमे स्वारोजगार को गति देनी होगी। तभी हम पलायन को रोकने में सफल होंगे। उन्होंने कहा कि मंच की ओर से स्वेदशी अपनाओं और विदेशी भागाओं अभियान के तहत हाल ही में ऋषिकेश में स्वेदशी मेला का आयोजन किया गया था। इस मेले में लोगों ने बढ़-चढ़कर भागीदारी की।

वहीं उन्होंने बताया कि इस अभियान को सीमावर्ती क्षेत्रों में भी चलाया जा रहा है। सीमा पर स्थित गांव के लोगों को पुस्तक और पम्पलेट के माध्यम से देशी और विदेशी वस्तुओं के बारे में बताया जा रहा है। इसके साथ शहरों के अलावा ग्रामीण क्षेत्र में प्रमुख त्यौहारों पर विशेष अभियान के माध्यम से जागरूक किया जा रहा है। स्वदेशी जागरण मंच के प्रदेश संयोजक सुरेन्द्र सिंह का कहना है कि ​मंच की ओर से प्रदेश में चीन सहित अन्य विदेशी वस्तुओं का उपयोग नहीं करने के लिए लोगों को जागरूक किया जा रहा है। अभियान के चलते देशी वस्तुओं की खरीददारी बढ़ी है।