featured यूपी

Prayagraj: रोडवेज बस के नीचे 100 मीटर तक घिसटा युवक, आई मामूली चोटें

रोडवेज बस के नीचे 100 मीटर तक घिसटा युवक, आई मामूली चोटें

प्रयागराज: प्रयागराज के मानसरोवर चौराहे के पास एक बड़ा हादसा होने से बच गया। यहां पर बस अड्डे से निकली एक रोजवेज बस का ब्रेक अचानक फेल हो गया। इससे रोडवेज बस अनियंत्रित हो गई और ड्राइवर के कंट्रोल से बाहर हो गई।

इस दौरान वहां सड़क पर एक पल्सर सवार सामने आ गया। पल्सर सवार को सामने देखकर रोडवेज बस चालक घबरा गया और उसने हड़बड़ी में गाड़ी उसी के ऊपर चढ़ा दी।

इससे पल्सर सवार बस से घसीटते हुए 100 मीटर आगे तक चला गया। इसके बाद जब रोडवेज चालक ने किसी तरीके से बस रोकी तो वहां मजमा लग गया।

इलाके में मची भगदड़

बता दें कि जिले के जीरो रोड स्थित रोजवेज बस अड्डे पर एक बस बांदा जाने के लिए निकली थी। बस जैसे ही बस अड्डे से बाहर निकली वैसे ही उसका ब्रेक फेल हो गया। इसके बाद बस का ड्राइवर बस को यहां-वहां भगाने लगा। बस को अनियंत्रित होकर भागता देखकर आसपास के इलाके में भगदड़ मच गई।

दृश्य देखकर कांपे लोग

इस दौरान एक पल्सर सवार बस से टकरा गया और वो उसके नीचे आ गया। ये दृश्य जिसने भी देखा वो कांप उठा। लोगों को शंका थी कि अब पल्सर सवार बिल्कुल नहीं बचेगा। लेकिन लोग ये देखकर दंग रह गए कि पल्सर सवार को ज्यादा चोटें नहीं आई थीं। इसके बाद युवक को फौरन अस्पताल पहुंचाया गया जहां उसकी हालत ठीक बताई जा रही है।

वहीं जानकारी मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची और घटनास्थल की छानबीन की। पुलिस ने रोडवेज बस चालक से पूछताछ की। पुलिस की पूछताछ में रोडवेज बस चालक ने बताया कि बस का ब्रेक अचानक फेल होने से ये हादसा हुआ है। वहीं पुलिस पूरे मामले की पड़ताल करने में जुट गई है।

जाको  राखे साइयां…

‘जाको राखे साइयां मार सके न कोय’ ये कहावत तो आपने सुनी ही होगी। प्रयागराज के मानसरोवर चौराहे पर जो घटना हुई वो इस बात की बानगी है कि जिसके सर पर भगवान का हाथ है उसका कोई बाल भी बांका नहीं कर सकता है।

पल्सर सवार जिस तरीके से रोडवेज बस के नीचे आया था, और घिसटता चला गया था, उससे किसी को भी उसके बचने की उम्मीद नहीं थी, लेकिन जिस तरीके से पल्सर सवार युवक को नई जिंदगी मिली है, उससे लोगों में भगवान को लेकर विश्वास एक बार फिर जग गया है।

Related posts

केंद्रीय मंत्री अरूण जेटली ने महबूबा मुफ्ती पर जमकर हमला बोला

rituraj

झूठ का पुलिंदा है ‘इरादे नेक, काम अनेक’: नसीमुद्दीन सिद्दीकी  

Shailendra Singh

हैदराबाद यूनिवर्सिटी में एबीवीपी का धमाल, 8 साल बाद सभी सीटों पर जीत पाई ABVP

mahesh yadav