October 17, 2021 11:27 pm
featured यूपी

गन्ना किसानों को योगी सरकार का तोहफा, 325 से बढ़ाकर 350 रुपये किया गया समर्थन मूल्य, सीएम बोले- 4 साल में सबसे ज्यादा भुगतान किया

5555 गन्ना किसानों को योगी सरकार का तोहफा, 325 से बढ़ाकर 350 रुपये किया गया समर्थन मूल्य, सीएम बोले- 4 साल में सबसे ज्यादा भुगतान किया

उत्तर प्रदेश सरकार ने प्रदेश के गन्ना किसानों को तोहफा दिया है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने गन्ने के दाम में 25 रुपये की बढ़ोतरी का एलान किया है। इसके साथ ही अब 315 रुपये वाले गन्ने का मूल्य 340 रुपये प्रति क्विंटल होगा।

325 से बढ़ाकर 350 रुपये हुआ गन्ने का समर्थन मूल्य

उत्तर प्रदेश सरकार ने प्रदेश के गन्ना किसानों को तोहफा दिया है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने गन्ने के दाम में 25 रुपये की बढ़ोतरी का एलान किया है। इसके साथ ही अब 315 रुपये वाले गन्ने का मूल्य 340 रुपये प्रति क्विंटल होगा। अब तक गन्ने का समर्थन मूल्य 325 रुपये था और अब 350 रुपये गन्ने का समर्थन मूल्य होगा। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने गन्ने के रेट में बढ़ोतरी करने के एलान के साथ कहा कि 4 साल में हमारी सरकार ने सबसे अधिक गन्ना किसानों को भुगतान किया है।

4 साल में हमने सबसे अधिक भुगतान किया- सीएम

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने इस दौरान गन्ना किसानों की भी तारीफ की। सीएम ने कहा कि 2007 से 2017 तक गन्ना मूल्य मूल्य का भुगतान नहीं हुआ। लेकिन 4 साल में हमने सबसे अधिक भुगतान किया। सीएम ने कहा कि गन्ने किसानों को 8 फ़ीसदी की वृद्धि उनके आय में होगी। 45 लाख किसानों की जीवन में बदलाव आएगा। वहीं सीएम ने बताया कि उन्होंने पराली जलाने के मामले में किसानों पर लगे सारे मुकदमा वापस लिए हैं।

बिजली बिल के बकाए राशि पर कोई ब्याज़ नहीं- सीएम

इसके साथ ही सीएम ने कहा कि बिजली बिल के बकाए राशि पर कोई ब्याज़ नहीं लगेगा। इसके लिए कमेटी गठित कर ली गई है। आज प्रदेश में इलीगल स्लॉटर हाउस बंद कर लिया। वहीं मुख्यमंत्री ने मुजफ्फरनगर दंगे के जिक्र करते हुए कहा कि मुजफ्फरनगर दंगे में मरने वाला अगर कोई था तो किसान था। हमारी सरकार में कोई दंगा नहीं हुआ। अगर किसी ने दंगा करने की कोशिश की तो उसकी 7 पीढ़ियां भरते भरते थक जाएंगी।

गन्ने के दाम बढ़ाना योगी सरकार का चुनावी स्टंट!

बता दें कि उत्तर प्रदेश में अगले साल चुनाव होने जा रहे हैं ऐसे में प्रदेश सरकार के इस फैसले को चुनावी एजेंडे से भी जोड़कर देखा जा रहा है। प्रदेश में लगातार गन्ने के दामों में बढ़ोतरी की मांग की जा रही थी। वहीं तीन कृषि कानूनों के खिलाफ 10 महीने से दिल्ली के बॉर्डर पर बैठे भारतीय किसान यूनियन के राष्ट्रीय प्रवक्ता राकेश टिकैत ने इससे पहले कहा था कि किसानों को गन्ने का रेट सवा चार सौ रुपये क्विंटल से एक रुपये कम भी मंजूर नहीं होगा। जिसके बाद अब योगी सरकार की ओर से गन्ने के रेट बढ़ा दिए हैं।

Related posts

15 साल पहले ही बनने वाली थी आलिया रणबीर की दुल्हन, हुआ बड़ा खुलासा

mohini kushwaha

महंगाई के खिलाफ कांग्रेस का हल्ला बोल

sushil kumar

‘मेरी जीभ में कैंसर है बहुत ही कष्ट में हूं, मैं आत्महत्या कर रहा हूं’

Trinath Mishra