featured उत्तराखंड

आपदा पीड़ितों को सीएम धामी ने बंधाया ढांढस, कहा- हर संभव मदद देंगे, संसाधन की कमी नहीं होने दी जाएगी

356 आपदा पीड़ितों को सीएम धामी ने बंधाया ढांढस, कहा- हर संभव मदद देंगे, संसाधन की कमी नहीं होने दी जाएगी

उत्तराखंड में भारी बारिश से काफी नुकसान झेलना पड़ा है। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी लगातार आपदाग्रस्त क्षेत्रों का दौरा कर रहे हैं। वहीं शुक्रवार को मुख्यमंत्री पौड़ी और चमोली जिले में पहुंचे। यहां सीएम ने बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों का दौरा किया और आपदा पीड़ितों को सांत्वना दी।

सीएम ने किया पौड़ी और चमोली में आपदाग्रस्त क्षेत्रों का दौरा

उत्तराखंड में भारी बारिश से काफी नुकसान झेलना पड़ा है। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी लगातार आपदाग्रस्त क्षेत्रों का दौरा कर रहे हैं। वहीं शुक्रवार को मुख्यमंत्री पौड़ी और चमोली जिले में पहुंचे। यहां सीएम ने बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों का दौरा किया और आपदा पीड़ितों को सांत्वना दी।  सीएम पहले चमोली के डुंग्री गांव पहुंचे और आपदा पीड़ितों को सांत्वना दी। इस दौरान मुख्यमंत्री ने ग्रामीणों का हर संभव मदद देने का आश्वासन दिया।

डुंग्री गांव में आपदा से हुए नुकसान का लिया जायजा

सीएम ने कहा कि किसी भी संसाधन की कमी नही होने दी जाएगी। उन्होंने डुंग्री गांव में आपदा से हुए नुकसान का जायजा भी लिया और अधिकारियों को राहत व बचाव कार्य में तेजी लाने का निर्देश दिए। दौरे के दौरान मुख्यमंत्री के साथ पर्यटन एवं जिला प्रभारी मंत्री सतपाल महाराज और आपदा प्रबंधन मंत्री डा. धनसिंह रावत मौजूद रहे।

अधिकारियों के साथ मीटिंग कर दिए निर्देश

वहीं बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों का दौरा करने के बाद मुख्यमंत्री ने अधिकारियों के साथ बैठक की। जिसमें उन्होंने बदरीनाथ हाईवे की जानकारी ली और सड़क नेटवर्क पर तेजी से काम करने के लिए बीआरओ की पीठ थपथपाई। सीएम ने बंद सड़कों को जल्द खोलने के निर्देश दिए। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने सभी जिलों के प्रभारी मंत्रियों को पत्र लिखकर अपेक्षा की है कि वह इस प्राकृतिक आपदा में अपने जिलों में राहत कार्यों का निरीक्षण करें। तत्काल आपदा प्रभावितों को राहत दिलाएं।

केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने किया था आपदाग्रस्त क्षेत्रों का दौरा

गुरुवार को उत्तराखंड में आपदा से हुए नुकसान का जायजा लेने के लिए केंद्रीय गृह अमित शाह ने गढ़वाल और कुमाऊं में आपदाग्रस्त इलाकों का हवाई सर्वेक्षण किया था। इस दौरान गृहमंत्री के साथ मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी भी मौजूद थे। वही अमित शाह ने भी मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी की पीठ थपथपाते हुए कहा था कि धामी सरकार की ओऱ से पहले से किए गए बंदोबस्त के कारण नुकसान कम हुआ। आपको बता दें कि उत्तराखंड में भारी बारिश के बाद 60 से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है।

Related posts

प्रतापगढ़: पत्रकार की मौत का मामला, अज्ञात के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज

Shailendra Singh

भारत की संस्कृति में की जाती है नारी की पूजा, जन्म से लेकर मृत्यु तक महिला निभाती है अहम भूमिका

Rahul

आरएसएस की बैठक में नहीं जाएंगे एसपी प्रमुख अखिलेश यादव

mahesh yadav