उत्तराखंडः थाईलैंड के टूर ऑपरेटर्स,मीडिया कर्मियों का 4 सदस्यीय डेलिगेशन देहरादून पहुंचा

उत्तराखंडः थाईलैंड के टूर ऑपरेटर्स और मीडिया कर्मियों का 4 सदस्यीय डेलिगेशन आज सूबे के परिचयात्मक भ्रमण के लिए देहरादून पहुंचा। जौली ग्रांट एयरपोर्ट पर दल का स्वागत पुष्प गुच्छ भेंट कर किया गया। आपको बता दें कि यह दल 21 से 30 अक्टूबर तक उत्तराखंड के विभिन्न स्थानों जैसे मसूरी, टिहरी, ऋषिकेश, रामनगर, नैनीताल, हरिद्वार आदि स्थानों का भ्रमण करेगा।

 

उत्तराखंडः थाईलैंड के टूर ऑपरेटर्स,मीडिया कर्मियों का 4 सदस्यीय डेलिगेशन देहरादून पहुंचा
उत्तराखंडः थाईलैंड के टूर ऑपरेटर्स,मीडिया कर्मियों का 4 सदस्यीय डेलिगेशन देहरादून पहुंचा

इस भी पढ़ेःउत्तराखंडःशीतकाल के लिए 20 नवंबर को बंद होगें बद्रीनाथ के कपाट

परिचयात्मक भ्रमण का उद्देश्य राज्य में मौजूद पर्यटन की अपार संभावनाओं को दक्षिण पूर्वी एशिया के लोगों के बीच पहुंचाना और उन्हें यहां की अनमोल धरोहर की ओर आकर्षित करना है।थाईलैंड के 4 सदस्य दल में वहां के नामचीन टूर ऑपरेटर व दो मीडिया कर्मी शामिल है। टूर ऑपरेटर Mr. Soontorn Piromsartkoon ने कहा कि उन्हें भारत आने पर काफी अच्छा लग रहा है और वह यहां से जाने के बाद दक्षिण पूर्वी एशिया के लोगों को यहां आने के लिए प्रेरित करेंगे।

इसे भी पढ़ेःउत्तराखंडःभाजपा के बागी नेता बनेंगे निकाय चुनाव में विभीषण

टूर ऑपरेटर ने कहा कि वह आने वाले एक हफ्ते को लेकर काफी उत्साहित हैं। मीडिया जगत से जुड़े Mr.Polkrit Thomya ने कहा कि वह थाईलैंड जाकर वहां के लोगों को भारत के उत्तराखंड में छिपे हुए अनमोल सौंदर्य से अवगत कराएंगे। और वहां के लोगों को यहां आने के लिए प्रेरित करेंगे। इसके अतिरिक्त दल में दो अन्य यात्री मीडिया क्षेत्र के Mr.Nawee Dangwichai और टूर ऑपरेटर Mr. Jatuporn Kirirat शामिल हैं। वह भी इस भ्रमण को लेकर काफी उत्साहित नजर आए।सचिव पर्यटन दिलीप जावलकर ने थाईलैंड के प्रतिनिधिमंडल का स्वागत करते हुए कहा कि दोनों देशों के बीच इस प्रकार के फैम टूर आयोजित करने से संस्कृतियों का आदान-प्रदान होता है। पर्यटन गतिविधियों को बढ़ावा मिलता है।

पर्यटन सचिव ने मेगस्थनीज, इब्नबतूता, ह्वेनसांग और फाह्यान का उदाहरण देते हुए कहा कि इन यात्रियों ने भारत से लौटकर विदेशों में भारतीय संस्कृति,कला, धर्म और सभ्यता का प्रचार प्रसार किया था। आज के दौर में भी इस प्रकार की गतिविधियां उतनी ही प्रासंगिक हैं। उन्होंने कहा कि इस भ्रमण कार्यक्रम से राज्य के प्राकृतिक सौंदर्य की ख्याति, लोक संस्कृति और पर्यटन की दूसरी विधाओं का देश के बाहर प्रचार-प्रसार होगा। जिससे राज्य में पर्यटन गतिविधियों में इजाफा होगा। साथ ही स्थानीय रोजगार में वृद्धि होगी। गौरतलब है कि बैंकॉक स्थित भारतीय दूतावास के अनुरोध पर उत्तराखंड पर्यटन विकास परिषद और उत्तराखंड होटल एसोसिएशन के सौजन्य से इस भ्रमण का आयोजन किया गया है।

महेश कुमार यादव