featured यूपी

कोरोना के बढ़ते मामलों पर सुप्रीम कोर्ट की दो टूक, देश में आपातकाल जैसे हालात

कोरोना के बढ़ते मामलों पर सुप्रीम कोर्ट की दो टूक, देश में आपातकाल जैसे हालात

लखनऊ: कोरोना महामारी और अस्पतालों की खराब हालत पर सुप्रीम कोर्ट की तरफ से टिप्पणी की गई। इस स्थिति को राष्ट्रीय आपातकाल जैसा बताते हुए स्थिति को काफी गंभीर बताया। वेदांता अस्पताल की तरफ से दायर याचिका में सुनवाई शुक्रवार को होनी है।

देश में बिगड़ते हालात पर सुनवाई

लगातार स्थिति देश में बिगड़ती जा रही है, हर दिन 3 लाख से अधिक नए मामले सामने आ रहे हैं। सुप्रीम कोर्ट की तरफ से कहा गया कि ऑक्सीजन और दवा की किल्लत पर स्वयं संज्ञान लेकर केंद्र सरकार को नोटिस भेजा गया है। मुख्य न्यायाधीश एसए बोबड़े की पीठ में कहा कि देश में राष्ट्रीय आपातकाल जैसी स्थिति है। तमिलनाडु सरकार की याचिका पर सुनवाई हो रही थी, जिसमें कहा गया कि आप लोग समाधान पर बात नहीं करते।

आंकड़ों पर नजर डालें तो देश में पिछले 24 घंटे में 3,32,175 नए मरीज सामने आए, वहीं 2255 लोगों की मौत हुई है। कई अस्पतालों में पहले से ही ऑक्सीजन की किल्लत लगातार जारी है। ऐसे में रेलवे और डीआरडीओ की मदद से व्यवस्थाओं को और बेहतर करने की कोशिश की जा रही है।

केंद्र सरकार से पूछा क्या है योजना

उच्चतम न्यायालय ने कोरोना वायरस के बढ़ते ग्राफ और अस्पतालों में ऑक्सीजन, दवाओं की समस्या पर संज्ञान लिया। केंद्र को नोटिस देते हुए कई सवाल पूछे गए, सुप्रीम कोर्ट में 4 बिंदुओं पर केंद्र को नोटिस भेजा है। इसके साथ ही हाईकोर्ट में दायर याचिकाओं को भी सुप्रीम कोर्ट अपने पास ट्रांसफर कर लिया है।

Related posts

गाजियाबाद में दिनदहाड़े हुई लूट, 25 लाख लेकर फरार हुए बदमाश

Neetu Rajbhar

सीएम ने किया ऋण वितरण कार्यक्रम का शुभारंभ, 25 हजार किसानों को मिलेगा ब्याज मुक्त ऋण

Aman Sharma

कश्मीर के हालातों पर अजीत डोभाल से मिले सेना प्रमुख

kumari ashu