bank hadtal बैंक कर्मचारियों की हड़ताल का दूसरा दिन, 10 लाख कर्मचारी-अधिकारी शामिल

नई दिल्ली: पूरे देश में निजीकरण के खिलाफ में सोमवार की तरह आज भी बैंक के कर्मचारी और अधिकारी हड़ताल पर रहेंगे। दरअसल सरकारी बैंकों को प्राइवेट सेक्टर को सौंपने वाले सरकार के कदम के खिलाफ पब्लिक सेक्टर के बैंक दो दिन की राष्ट्र व्यापी हड़ताल पर हैं। पब्लिक सेक्टर के नौ बैंकों की यूनियन, यूनाइटेड फोरम ऑफ बैंक यूनियन्स ने हड़ताल का एलान किया है। दरअसल बजट सत्र के दौरान वित्त मंत्री ने बताया था कि इस साल दो सरकारी बैंकों और एक इंश्योरेंस कंपनी का निजीकरण किया जाएगा।

हड़ताल से कामकाज प्रभावित

सरकारी बैंकों के कर्मचारियों की हड़ताल से पहले दिन काफी काम प्रभावित हुआ। हड़ताल के कारम नकदी निकासी, जमा और चेक समाशोधन के साथ ही लेन-देन का काम काफी ज्यादा प्रभावित हुआ। यूनियन नेताओं ने हड़ताल में लगभग 10 लाख कर्मचारियों और अधिकारियों के शामिल होने का दावा किया है।

9 यूनियन संगठन ने हड़ताल का किया एलान

सरकारी बैंकों के निजीकरण के फैसले के खिलाफ बैंक यूनियन के नौ यूनियन संगठन यूनाइेटड फोरम ऑफ बैंक यूनियन्स ने हड़ताल का एलान किया है। ऑल इंडिया बैंक एम्पलाइज एसोसिएश्न (एआईबीईए) ने बयान में कहा कि अतिरिक्त मुख्य श्रम आयुक्त के साथ 4, 9 और 10 मार्च को हुई सुलह-सफाई बैठक में हमने कहा था कि यदि सरकार अपने फैसले पर पुनर्विचार करे, तो हम हड़ताल के फैसले पर पुनर्विचार करेंगे। लेकिन सरकार ने हमारी मांग नहीं मानी जिसके बाद हमने हड़ताल का फैसला लिया।

हड़ताल से पहले यूनियन ने क्या कहा ?

हड़ताल को लेकर यूनियन ने कहा कि सोमवार को हड़ताल सफल रही। साथ ही यूनियन ने यह भी बताया की सर्वाजनिक क्षेत्र के बैंकों को जानकारी दे दी गई थी कि, बैंकों में हड़ताल रहेगी इसलिए वह लेनदेन के लिए डिजिटल माध्यम का इस्तेमाल करें। तो वहीं दूसरी तरफ सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया ने शेयर बाजारों को भेजी गई जानकारी में कहा कि हड़ताल के कारण बैंकिग कामकाज काफी ज्यादा प्रभावित हुआ।

ये नौ बैंक संगठन हड़ताल में शामिल ?

निजीकरण के खिलाफ नौ अलग-अलग बैंकों की यूनियन संगठन ने हड़ताल का एलान किया था। जिनमें से ऑल इंडिया बैंक एम्प्लॉयज एसोसिशन (एआईबीईए), ऑल इंडिया बैंक ऑफिसर्स कॉन्फेडरेशन (एआईबीओसी), नेशनल कॉन्फेडरेशन ऑफ बैंक एम्प्लॉयज (एनसीबीई), ऑल इंडिया बैंक ऑफिसर्स एसोसिएशन (एआईबीओए) और बैंक एम्प्लॉयज कॉन्फेडरेशन ऑफ इंडिया (बीईएफआई) शामिल हैं। इसके अलावा इंडियन नेशनल बैंक एम्प्लॉयज फेडरेशन (आईएनबीईएफ), इंडियन नेशनल बैंक ऑफिसर्स कांग्रेस (आईएनबीओसी), नेशनल ऑर्गनाइजेशन ऑफ बैंक वर्कर्स (एनओबीडब्ल्यू) और नेशनल आर्गनाइजेशन ऑफ बैंक ऑफिसर्स (एनओबीओ) संगठन भी इसमें शामिल हैं।

सीएम रावत से मिले तीर्थ पुरोहित, देवस्थानम बोर्ड को भंग करने की मांग

Previous article

जानिए, कैसा रहेगा आपका आज का दिन

Next article

You may also like

Comments

Comments are closed.

More in featured