October 23, 2021 10:12 pm
featured Science

Science News: वैज्ञानिकों ने पकड़ा ये रेडियो सिग्नल, कही और भी जीवन होने की बात कही

estroid towards earth e1615530874364 Science News: वैज्ञानिकों ने पकड़ा ये रेडियो सिग्नल, कही और भी जीवन होने की बात कही

वैज्ञानिकों को अंतरिक्ष से रेडियो संकेत और इस वजह से वैज्ञानिकों का मानना है कि  धरती के अलावा भी इस ब्रह्मांड में कहीं और भी जीवन है। हालांकि, अन्य ग्रह पर जीवन है या नहीं यह सवाल आज से नहीं सदियों से  चला आ रहा है। अब इस कड़ी में वैज्ञानिकों ने एक ऐसा रेडियो संदेश पकड़ा है, जिसमें ये ब्रह्मांड में कहीं न कहीं और भी जीवन मौजूद है इसका दावा किया जा रहा है।

फ्रीक्वेंसी वाला एंटीना नीदरलैंड में बताया जा रहा है

बता दे कि अंतरिक्ष वैज्ञानिकों ने पहली बार उन तारों का पता लगाया है जो रेडियो सिगनल भेज रहे हैं। इस रेडियो संदेश से यह पता चलता है कि उनके आसपास छुपे हुए ग्रह मौजूद है। आपको बता दें कि मिली जानकारी के मुताबिक वैज्ञानिकों ने इन सिग्नलों को रेडियो एंटेना के जरिए पकड़ा है, जो कि फ्रीक्वेंसी वाला एंटीना नीदरलैंड में  बताया जा रहा  है।

वैज्ञानिकों में  खुशी की लहर 

बता दे कि यूनिवर्सिटी आफ क्वींसलैंड के मुताबिक छिपे हुए ग्रहों को खोजने की इस नई तकनीक से ब्रह्मांड में कहीं और जीवन मौजूद होने की बात कही जा रही है, और इस बात के सामने आने से वैज्ञानिकों में  खुशी की लहर देखने को मिल रही है।

19 सुदूर रेड ड्वार्फ सिग्नलों को पकड़ा

अंतरिक्ष वैज्ञानिक लोग फ्रीक्वेंसी एरा तकनीक के जरिए ही ब्रह्मांड में अन्य ग्रहों की खोज कर रहे हैं। वहीं माना जा रहा है कि अंतरिक्ष वैज्ञानिकों ने 19 सुदूर रेड ड्वार्फ सिग्नलों को पकड़ा है। इनमें चार सिग्नलों से साफ पता चल रहा है कि इन तारों के आसपास कोई ग्रह जरुर मौजूद हो सकता  हैं।

चुंबकीय क्षेत्र सौर हवा से मिलता है

वैज्ञानिक ब्रह्माण्ड में ग्रहों की खोज में लगे हुए  हैं, वैज्ञानिकों का कहना है कि  हमारे अपने सौर मंडल के ग्रह शक्तिशाली रेडियो तरंगे भेजते हैं, क्योंकि इनका चुंबकीय क्षेत्र सौर हवा से मिलता है।

रेडियो तरंगों को अभी तक नहीं पकड़ा गया था

लेकिन हमारे सौर मंडल से बाहर के ग्रहों से निकलने वाली रेडियो तरंगों को अभी तक नहीं पकड़ा गया था। इससे पहले वैज्ञानिक केवल हमारे सौर मंडल के सबसे निकट तारों के बारे में ही खोज कर सके थे।

अंतरिक्ष वैज्ञानिक मानते हैं कि  ये चुबंकीय तरंगें तारों से आ रही हैं और वहां चक्कर लगाने वाले ग्रह मौजूद हैं।

Related posts

सतलुज-यमुना लिंक केस में पंजाब सरकार को सुप्रीम कोर्ट से लगा झटका

Rahul srivastava

भारत-यूएई के बीच होंगे कई समझौते…जानिए किन मुद्दों पर बन सकती है बात

shipra saxena

राहुल गांधी को हुआ कोरोना, ट्वीट कर दी जानकारी

Saurabh