featured राजस्थान

सीएम अशोक गहलोत के तीखे सवालों का सचिन पायलट ने दिया जवाब, जाने क्या कहा

sachin2 सीएम अशोक गहलोत के तीखे सवालों का सचिन पायलट ने दिया जवाब, जाने क्या कहा

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के तीखे हमलों पर सचिन पायलट ने भी जवाब दिया है। पायलट ने कहा कि इस तरह के बयानों से दुखी हूं।

जयपुर: मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के तीखे हमलों पर सचिन पायलट ने भी जवाब दिया है। पायलट ने कहा कि इस तरह के बयानों से दुखी हूं लेकिन हैरान नहीं। यह राजस्थान में सरकार के नेतृत्व के खिलाफ आवाज उठाने का नतीजा है। यह हमला मेरी इमेज खराब करने की कोशिश है। विधायक जिन्होंने मुझ पर खरीद-फरोख्त करने के आरोप लगाए हैं, उनके खिलाफ कानूनी कार्रवाई करूंगा।

बता दें कि राजस्थान सरकार की सियासत में उठा सियासी तूफान अभी तक थमा नहीं है। इस समय सीएम अशोक गहलोत के तेवर काफी तीखे हैं। आज सचिन पायलट पर हमला बोलते हुए उन्होंने पायलट को निकम्मा तक बोल दिया है।

वहीं बिना नाम लिए पायलट पर गहलोत ने तीखा हमला बोलते हुए कहा कि हमारे साथी हैं. 35 साल में प्रदेश अध्यक्ष बन गए, उप मुख्यमंत्री बन गए। 10-12 साल के गेम में आप सब कुछ बन गए। उसके बाद जिस तरह से उन्होंने खेल-खेला वह बहुत दुर्भाग्यपूर्ण है। किसी को यकीन नहीं होता था।

https://www.bharatkhabar.com/rafael-will-come-to-india-on-july-29/

मैंने कभी सवाल नहीं किया कि वह कितना काम कर रहे हैं, कितना काम कर पा रहे। हम जानते थे कि क्या हो रहा है, कुछ नहीं हो रहा था यार 7 साल के अंदर राजस्थान के भीतर किसी ने भी पायलट को हटाने की मांग नहीं की कि अध्यक्ष पद से हटाए हम जानते थे। निकम्मा नाकारा है. खाली लोगों को लड़वा रहे हैं। कुछ नहीं कर रहा है।

राज सीएम गहलोत ने कही ये बातें

राजस्थान में कल्चर ऐसा है. हम नहीं चाहते थे कि एक दिल्ली में ऐसा लगे कि हम लोग आपस में लड़ रहे हैं। हमने कभी एक शब्द उनके खिलाफ नहीं बोला। उम्र पीछे है, पद बड़ा है. मैंने सिखाया कि प्रदेश अध्यक्ष अगर आए तो खड़े होना चाहिए पर वह व्यक्ति भाजपा के लिए कांग्रेस के पीठ पर छुरा भोंक कर जाने के लिए तैयार हो जाए। राजस्थान के राज्यसभा चुनाव के दौरान भी इस तरह की षड्यंत्र रचा गया।

कांग्रेस के अध्यक्ष बनने का ख्वाब देखे पर कॉर्पोरेट हाउस करें। मुंबई से अभी लंदन से वकील साहब बोल रहे हैं। किसके वकील हैं, कॉर्पोरेट हाउस के वकील हैं। एक पेशी की फीस 50-4000000 लाख फीस होती है। यह पूरा कॉर्पोरेट हाउस लगा हुआ है। मोदी जी को खुश करने के लिए यह सब कर रहे हैं। मैं कहना चाहूंगा कांग्रेस सरकार को गिराने का यह बड़ा षड्यंत्र है।

 

Related posts

अमित शाह ने असम में बाढ़ और घुसपैठ को बताया बड़ी समस्या, साथ ही विपक्षी दलों पर साधा निशाना

Aman Sharma

यूपी: सपा जितने पैसे से चलाती थी साल भर सरकार, उससे अधिक योगी सरकार ने किसानों को दी सौगात

Neetu Rajbhar

केंद्रीय पर्यटन मंत्री केजे अल्फोंस से मुलाकात के बाद सतपाल महाराज का बयान

Rani Naqvi