featured धर्म भारत खबर विशेष

तुलसी पूजा के जान लें ये नियम, वरना नाराज हो जाएंगी मां लक्ष्मी

tulsi 1 तुलसी पूजा के जान लें ये नियम, वरना नाराज हो जाएंगी मां लक्ष्मी

कहा जाता है कि माता तुलसी की पूजा करने वाले व्यक्ति को कभी दरिद्रता नहीं सताती। संसार के सभी सुखों का आनंद ऐसे व्यक्ति को मिलता है।

यह भी पढ़ें:- 18 नवंबर 2022 का राशिफल

लेकिन क्या आपको पता है कि तुलसी की पूजा करने के कुछ विशेष नियम होते है अगर इनकी अनदेखी की गई तो माता लक्ष्मी आप पर क्रोधित भी हो सकती हैं। तो आइए आज हम आपको एक-एक करके इन सभी नियमों की जानकारी देते हैं…

तुलसी
तुलसी जी का पौधा

1- तुलसी मां में लक्ष्मी देवी का वास होता है। इसलिए तुलसी की पूजा या स्पर्श से पहले स्नान जरूर करलें, अगर बिना स्नान तुलसी को स्पर्श किया तो धन की देवी नाराज हो सकती हैं। इसलिए स्नान के बाद तुलसी माता को पहले प्रणाम करें फिर इसका पत्ता तोड़ें।

2- तुलसी का पत्ता कभी सूरज के अस्त होने के बाद नहीं तोड़ा जाता है। इसको अगर तोड़ना है तो सुबह या दिन में ही तोड़ लें। ऐसा कहा जाता है कि सूर्य अस्त होने के बाद तुलसी का पत्ता तोड़ने से विष्णु जी क्रोधित हो जाते हैं। इससे धन दौलत का नुकसान हो सकता है।

3- सुबह में तुलसी पूजा में जल चढ़ाया जाता है। और शाम के वक्त घी का दीपक जलाकर परिक्रमा करने की मान्यता है। शाम को जल नहीं चढ़ाया जाता है।

4- कुछ विशेष दिन जौसे रविवार, एकादशी, चंद्र ग्रहण और सूर्य ग्रहण के दिन तुलसी पत्ता नहीं तोड़ा जाता है। इससे पूजा का फल नहीं मिलता। रविवार-एकादशी को तुलसी माता विष्णु जी के लिए निर्जला व्रत करती हैं इस वजह है इस दिन जल चढ़ाने को भी मना किया जाता है।

5- ज्यादा जल चढ़ाने से भी तुलसी जी सूख जाती हैं। तुलसी जी का सूखना अच्छा नहीं माना जाता है। इसलिए थोड़ा ही जल अर्पित करें।

Related posts

निर्मला सीतारमण ने फ्रांस की रक्षामंत्री से की मुताकात,सामरिक और सुरक्षा सहयोग पर हुई चर्चा

mahesh yadav

प्रधानमंत्री के न्यू इंडिया संकल्प को पूरा करना हमारा लक्ष्य होना चाहिए

Rani Naqvi

फेसबुक परिवार में फिर आएगी नन्हीं परी, मार्क जकरबर्ग दोबारा बनेंगे पापा

shipra saxena