Breaking News featured उत्तराखंड देश

राज्य स्थापना दिवस को लेकर तैयारियां शुरू, गैरसैंण में होने वाले कार्यक्रम में शामिल होंगे मुख्यमंत्री

e0cc3372 9b9a 43c8 9912 c80bf56deb8f राज्य स्थापना दिवस को लेकर तैयारियां शुरू, गैरसैंण में होने वाले कार्यक्रम में शामिल होंगे मुख्यमंत्री

उत्तराखंड। देश के सबसे पवित्र राज्य उत्तराखंड का स्थापना दिवस मनाने की तैयारियां बड़ी ही धूम-धाम से चल रही है। लोगों में उत्साह का माहौल है। उत्तराखंड राज्य की स्थापना कई वर्षोें के संघर्ष के बाद 9 नवंबर 2000 को हुई थी। जिसके चलते मंगलवार को मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत की अध्यक्षता में राज्य स्थापना दिवस कार्यक्रम को लेकर बैठक हुई। बैठक में तय हुआ कि सभी जिला मुख्यालयों में भी सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए सादगीपूर्वक स्थापना दिवस मनाया जाएगा। इसमें मुख्य अतिथि प्रभारी मंत्री होंगे। मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत 9 नवंबर को देहरादून पुलिस लाइन में मुख्य समारोह में शामिल होने के बाद गैरसैंण जाएंगे। राज्य स्थापना दिवस पर गैरसैंण में भी पुलिस परेड और सांस्कृतिक कार्यक्रमों का आयोजन होगा।

माउंटेन बाईक रैली का शुभारंभ-

बता दें कि आठ नवंबर को मुख्यमंत्री माउंटेन बाईक रैली का शुभारंभ करेंगे। राज्य के समस्त महाविद्यालयों में फ्री वाई-फाई कनेक्टिविटी कार्यक्रम का शुभारंभ डोईवाला से मुख्यमंत्री करेंगे। यहीं से वह डोबरा-चांटी पुल का लोकार्पण भी करेंगे। नौ नवंवबर को मुख्यमंत्री राज्य आंदोलन के शहीदों को शहीद स्मारक, देहरादून में श्रद्धांजलि देंगे। पुलिस लाइन में मुख्य आयोजन होगा, जिसमें राज्य स्थापना परेड’’ एवं विकास पुस्तिका का विमोचन किया जाएगा मंगलवार को हुई बैठक में कैबिनेट मंत्री अरविंद पाण्डे, राज्यमंत्री स्वतंत्र प्रभार डॉ. धन सिंह रावत, सचिव वित्त अमित नेगी, सचिव मुख्यमंत्री राधिका झा एवं अपर सचिव मुख्यमंत्री तथा महानिदेशक सूचना डॉ. मेहरबान सिंह बिष्ट उपस्थित थे। आठ नवंबर से 11 नवंबर तक देहरादून व अन्य जिलों में मुख्य राजकीय भवनों को प्रकाशमान किया जाएगा। गढ़वाल मण्डल विकास निगम एवं कुमाऊ मण्डल विकास निगम भी अपने कार्यालय एवं पर्यटक आवास गृहों को प्रकाशित करेंगे।

कार्यक्रम में इन्हें अनिवार्य रूप से किया जाएगा आमंत्रित-

वहीं 10 नवंबर को मुख्यमंत्री गैरसैंण में स्थानीय भ्रमण कर वीर चन्द्र सिंह गढ़वाली की दूधातोली स्थित समाधि में पुष्पांजलि अर्पित करेंगे। तत्पश्चात गैरसैंण में विभिन्न विभागों के लोकार्पण व  शिलान्यास करेंगे। राज्य स्थापना समारोह के अवसर पर आयोजित होने वाले कार्यक्रमों के लिए नोडल विभाग, सूचना एवं लोक सम्पर्क विभाग  होगा। इसके लिए डॉ. मेहरबान सिंह बिष्ट, महानिदेशक सूचना को नामित किया गया है। समारोह में चुनिंदा महानुभावों, अधिकारियों व व्यक्तियों को ही आमंत्रित किया जाएगा। एक से अधिक प्रभार वाले जिलों में नामित सांसद को मुख्य अतिथि के रूप में आमंत्रित किया जाएगा। संबंधित जिले के समस्त विधायकों को उपरोक्त कार्यक्रम में अनिवार्य रूप से आमंत्रित किया जाएगा। विभागवार शिलान्यास/लोकार्पण कार्यक्रमों की रूपरेखा अपर मुख्य सचिव, नियोजन एवं मुख्यमंत्री घोषणाओं से संबंधित कार्य सचिव, मुख्यमंत्री (घोषणा) से समन्वय स्थापित करते हुए संपन्न कराया जाएगा।

 

 

 

 

Related posts

चीन का काल बना ताइवान, मिनटों में खत्म देगा चीन का खेल..

Rozy Ali

विपक्ष पर जमकर बरसे संजय निषाद, कहा- 5 दिन पव्वा पिलाकर करते हैं 5 साल राज

Shailendra Singh

कोरोना संक्रमण से मुक्ति के लिए रणनीति बनाने की जरूरत : अखिलेन्द्र दुबे

Shailendra Singh