September 22, 2021 9:14 pm
featured देश

फिल्मों में चांस दिलाने के बहाने पोर्न फिल्म बनाने वाले गिरोह का पर्दाफाश, ऐसे फंसाते थे लड़कियां

porn film फिल्मों में चांस दिलाने के बहाने पोर्न फिल्म बनाने वाले गिरोह का पर्दाफाश, ऐसे फंसाते थे लड़कियां

शहर की एक मॉडल को फिल्मों का झांसा देकर पोर्न फिल्में बनाने और अश्लील वेब साइट पर डालने का मामला सामने आया है। साइबर सेल ने इस मामले में नौ लागों को चिह्नित किया है।

नई दिल्ली। शहर की एक मॉडल को फिल्मों का झांसा देकर पोर्न फिल्में बनाने और अश्लील वेब साइट पर डालने का मामला सामने आया है। साइबर सेल ने इस मामले में नौ लागों को चिह्नित किया है। साथ ही इस मामले में 2 आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है। इस गिरोह ने शहर में एक दर्जन से ज्यादा अश्लील वीडियो बनाकर कई लड़कियों का आर्थिक और शारीरिक शोषण किया गया है।

बता दें कि आरोपी लड़कियों को अपने संबंध बॉलीवुड सितारों से बताकर अपने झांसे में फंसाते थे। कई लड़कियों के साथ रेप कर उनकी वीडियों बनाकर उन्हें ब्लैकमेल कर पैसे एंठते थे। एसपी सायबर सेल जितेंद्र सिंह का कहना है कि रैकेट के मिलिंद पिता अनिल डावर नि.102 रौनक आर्च रेसकोर्स रोड और अंकित सिंह पिता संजय सिंह चावड़ा गुरुगोविंद कॉलोनी को गिरफ्तार किया गया है। जो आरोपी गिरफ्तार किए गए हैं सभी के खिलाफ आईटी एक्ट और अन्य धाराओं में केस दर्ज किया गया है।

https://www.bharatkhabar.com/congress-is-shifting-the-mlas-who-have-stayed-in-jaipur-hotel/

साथ ही मॉडल युवती का कहना है कि इस रैकेट में ब्रजेंद्र गुर्जर, राजेश गुर्जर, सुनील जैन, अनिल द्विवेदी, विजयानंद पांडे, अजय गोयल और गजेंद्र सिंह शामिल हैं। इन्होंने विजय नगर व पलासिया में स्टूडियो बनाकर कई लड़कियों की ओटीटी प्लेटफार्म के बड़े बैनर्स फिल्म बनाने के लालच देकर अश्लील फिल्म बनाई।

मॉडलिंग एजेंसी की आड़ में मिलिंद युवतियों को करता था कॉस्ट

वहीं जिस युवती ने शिकायत की थी उसका कहना है कि आरोपियों ने जिस पोर्न मूवी को इंदौर में शूट किया था उसे अशोक सिंह, विजयानंद पांडे के द्वार लाखों रुपए में बेची जाती थीं। जबकि लड़कियों को एक पोर्न सीन करने के लिए 25 हजार रूपये दिए जाने का वादा किया जाता था लेकिन शूट होने के बाद उन लड़कियों को 5 से 10 हजार रूपये दिए जाते थे। बाकी के पैसों की धोखाधड़ी कर ली जाती थी। इसके अलावा लड़कियों का सेट पर शारीरिक शोषण किया जाता था। करीब आधा दर्जन से ज्यादा उभरती मॉडल्स के साथ इस तरह की पोर्न फिल्में बनाकर धोखाधड़ी की गई है।

पोर्न वीडियो बनाने के बाद आरोपी लड़कियों को करते थे ब्लैकमेल

गिरफ्तार आरोपी मिलिंद इंदौर में होने वाले फैशन शो व एड के लिए काम करता है। बतौर बैकग्राउंड आर्टिस्ट के तौर पर खुद का प्रोफाइल बताकर यह नई युवतियों को बॉलीवुड के सपने दिखाकर इस फील्ड में उतार चुका है। आरोपी मिलिंद एमडीएफएएम के नाम से मॉडलिंग एजेंसी चलाता है। वहीं आरोपी अंकित चावड़ा एनएमएच फिल्म प्रोडक्शन हाउस में कैमरा मेन है। इन दोनों ने वेब सीरीज व सीरियल बनाने के नाम पर मॉडल की कॉस्टिंग कर कई पोर्न फिल्में शूट की हैं। कुछ में तो आरोपी मिलिंद युवतियों के साथ लीड रोल में रहा है। इनका नेटवर्क मुंबई तक जुड़ा है। आरोपी इन फिल्मों को अश्लील साइट पर भी अपलोड कर रुपए कमा रहे थे।

Related posts

प्रियंका गांधी बोलीं: आरोप लगाने के बजाय मोदी को देना चाहिए पांच साल का हिसाब

bharatkhabar

उत्तर प्रदेश में बाढ़ ने बिगाड़े हालात, अब तक 11 लोगों की मौत

bharatkhabar

प्रदेश में सर्वाधिक 2967 कोरोना के नए मामले, 16 की मौत

sushil kumar