Breaking News featured भारत खबर विशेष यूपी

पुलिस ने सुलझाई उन्नाव हत्याकांड की गुत्थी, हत्याकांड में दो लोगो की गिरफ्तारी

unnao hatyakaand पुलिस ने सुलझाई उन्नाव हत्याकांड की गुत्थी, हत्याकांड में दो लोगो की गिरफ्तारी

उन्नाव – उन्नाव केस की गुत्थी सुलझाते हुए यूपी पुलिस ने उन्नाव कांड का खुलासा करते हुए दो लोगों को गिरफ्तार कर लिया है। बताया जा रहा है कि मामला एक तरफ़ा प्यार से जुड़ा है। पुलिस ने बताया कि आरोपी लड़के ने पानी में कीटनाशक मिलाकर लड़कियों को पीने के लिए दे दिया था। जिसके चलते दो लड़कियों की मौके पर ही मौत हो गयी थी जबकि तीसरी लड़की का कानपुर में इलाज चल रहा है।

ये है पूरा मामला –
उन्नाव के बबुरहा गांव में एकतरफा प्यार में बेकसूर लड़कियों की जान लेने के मामले में कई चौंकाने वाली बातें सामने आई है। आईजी लक्ष्मी सिंह ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में बताया कि पाठकपुर गांव के विनय और किशोरी के बीच लॉकडाउन से बातचीत चल रही थी। एकतरफ प्रेम का प्रस्ताव नकारने और फोन नंबर न देने के बावजूद बातचीत बरकरार थी। पांचों लोग अक्सर शाम को खेतों में जाकर कुछ खाते-पीते थे इसलिए लड़कियों को चिप्स और पानी की बोतल पर कोई शक नहीं हुआ। पुलिस का दावा है कि विनय ने किसी लड़की से कोई जोर जबरदस्ती नहीं की लेकिन उसके मन में शायद ऐसा न कर पाने का आक्रोश था। इस वजह से ही उसने हत्या का प्लान बनाया था। पुलिस के अनुसार विनय के खेत लड़कियों के पिता के खेत के बगल में थे। हमेशा साथ रहने वाली लड़कियों के बीच अक्सर बातचीत होती थी। ये लोग घंटों साथ समय गुजारते थे।

सपा एमएलसी सुनील साजन का क्या है कहना –
इस हत्याकांड के खुलासे पर प्रतिक्रिया देते हुए सपा एमएलसी सुनील साजन ने कहा कि पुलिस की बताई कहानी में कही न कही झोल है। शासन प्रशासन अगर निष्पक्ष जांच की बात कर रहा था तो पोस्टमार्टम रिपोर्ट अब तक सार्वजनिक क्यों नहीं की गई। ये लोग बस अपने हिसाब से बयान दे रहे है। हमें बयान पर नहीं, रिपोर्ट पर भरोसा है। खुलासे के साथ पोस्टमार्टम रिपोर्ट सार्वजनिक कर देते तो सारी स्थिति साफ हो जाती। सुनील साजन ने पुलिस की ज़हर वाली कहानी पर भी सवाल खड़े किए और कहा कि ज़हर किसी को भी पिलाया जा सकता है मगर ज़हर पीने के बाद तड़पना, चिल्लाना, घबराहट में भागना जैसी स्थिति बनती है। जबकि पुलिस की कहानी में ऐसा कुछ नहीं बताया गया। पुलिस सरकार के इशारे पर बड़ी चीज छिपा रही है। सपा पहले ही दिन घटना का जल्द से जल्द खुलासा करने की मांग कर रही थी। लेकिन घटना के बाद से गांव को छावनी बना दिया। किसी को परिवार से बात नही करने दी। इतना पुलिसबल लगाया गया और परिजनों को सबसे बात करने नही दिया गया।

Related posts

राष्ट्रपति पुरुस्कार से सम्मानित हुई मेरठ की शिक्षका रजनी रानी

Breaking News

टैक्स चोरी के मामले में इनकम टैक्स विभाग ने कई जगह की छापेमारी

shipra saxena

भारत में अब मिसाइल बना सकेंगी निजि कंपनियां जानिए क्यों दी गई अनुमति?

Mamta Gautam