featured

1 अप्रैल से होंगे बड़े बदलाव, जनता की जेब पर सीधा असर

आयकर रिटर्न दाखिल करने की समयसीमा

एक अप्रैल, 2020 से नए वित्त वर्ष की शुरुवात होने के साथ कई जरूरी नियम बदलने जा रहे हैं. 10 ऐसे नियमों में बदलाव हो रहे हैं जो आपकी रोजमर्रा की जिंदगी को प्रभावित कर सकते है इनमें बैंकों के विलय से लेकर जीएसटी रिटर्न के नियम, नया आयकर नियम, विदेश यात्रा वाहन नियम और दवाइयों से जुडें नियम शामिल है।

नया आयकर नियम लागू किया जाएगा 

1 अप्रैल 2020 से आयकर के नियमों में बदलाव किया जाएगा लागू नए नियम के मुताबिक बिना कोई बचत किए भी करदाता छूट प्राप्त कर सकेगा हालांकि वित्त मंत्रालय का कहना है कि ये  व्यवस्था पूरी तरह से वैकल्पिक होगी।

10 सरकारी बैंकों का विलय चार बड़े बैंको में 

बैंकिंग सेक्टर में बड़े बदलाव किए जाएंगे  देश के 10 सरकारी बैंकों का विलय कर चार बड़े बैंक बनाए जाएंगे यह देश के बैंकिंग सेक्टर का सबसे बड़ा विलय होगा अगर आपका खाता इन बैंकों में है तो आपको कुछ मुश्किलों का सामना करना पड़ सकता है बदलावों की सूचना अपने बिलों किस्तों को काटने वाले बैंकों को देनी होगी।

विदेश यात्रा होगी मंहगी 

सरकार की नजर डीजल पेट्रोल के बाद अब पर्यटन के क्षेत्र पर भी है। 1 अप्रैल से सरकार विदेश यात्रा के कुल पैकेज पर स्त्रोत पर एकत्रित कर (टीसीएस) लगाएगी. वित्त वर्ष 2020-21 की शुरुआत से विदेश यात्रा पर पांच फीसदी टैक्स चुकाना पड़ सकता है।

नया जीएसटी रिटर्न फॉर्म होगा लागू 

सरकार जीएसटी के नियमों में भी बड़े बदलाव करनी जा रही है जिससे कारोबार और कारोबारियों पर असर पड़ सकता है। जीएसटी परिषद की 31 वीं बैठक में 1 अप्रैल से नया जीएसटी रिटर्न फॉर्म लाने पर फैसला हुआ था. नया फॉर्म काफी सरल होगा और रिटर्न भरने में आसानी होगी।

केवल बीएस-6 मानक वाले वाहन बिकेंगे 

नए वाहन नियमों से मौजूदा वाहन और वाहन कारोबार पर असर पड़ सकता है, नए नियम के मुताबिक एक अप्रैल से देश में सिर्फ बीएस-6 मानक वाले वाहन ही बिकेंगे हालांकि कोरोना संकट के चलते सुप्रीम कोर्ट ने बीएस-4 वाहनों का रजिस्ट्रेशन अप्रैल में सशर्त 10 दिन करने की अनुमति दी है।

सभी मेडिकल डिवाइस को ड्रग्स घोषित करने का फैसला 

हेल्थ सेक्टर में भी सरकार में कुछ बदलाव करने का फैसला किया है जिससे इससे जुडे़ करोबारियों कुछ मुश्किलों का सामना करना पड़ सकता है। नए नियम के मुताबिक सरकार ने सभी मेडिकल डिवाइस को 1 अप्रैल, 2020 से ड्रग्स घोषित करने का फैसला किया है. नए वित्त वर्ष से ड्रग्स एंड कॉस्मेटिक की धारा 3 के तहत इंसानों और जानवरों पर इस्तेमाल होने वाले उपकरणों को औषधि की श्रेणी में रखा जाएगा ।

पेंशन स्कीम नियम में बदलाव 

पेंशन का लाभ ले रहे लोगों के लिए सरकार मेहरबान दिखाई दे रही है नए नियम के मुताबिक सरकार ने एम्पलॉई पेंशन स्कीम नियम में बदलाव किया है इसके तहत जो 26 सितंबर, 2008 से पहले रिटायर हुए करीब 6 लाख लोगों को 1 अप्रैल, 2020 से ज्यादा पेंशन मिलेगी.

कारोबारियों को नए मानक पर मिलेगा कर्ज 

कारोबारियों को नए नियम के मुताबिक 1 अप्रैल 2020 से नए मानकों पर कर्ज मिलेगा कारोबारियों को परिवर्तनशील ब्याज दरों पर दिए जाने वाले सभी नए लोन को 1 अप्रैल से रेपो जैसे बाहरी मानकों से जोड़ा जाएगा इससे ब्याज दर में कमी आएगी। इसमे छोटे और मझोले करोबारी शामिल किए गए है।

मोबाइल डाटा होगा मंहगा 

1 अप्रैल से दूर संचार कंपनियों ने मोबाइल डाटा के लिए शुल्क बढाकर न्यूनतम 35 रुपये/जीबी की दर तय करने की मांग की है . यह मौजूदा दर से करीब 7-8 गुना है अगर सरकार मंजूरी देती है तो इंटरनेट का इस्तेमाल मंहगा होगा। जिसका सीधा असर मोबाइल उपभाक्ताओं पर पड़ेगा।

बीएस-6 ग्रेड के पेट्रोल- डीजल की आपूर्ति होगी शुरू 

नए नियम के मुताबिक पेट्रोल और डीजल के और मंहगा होने की आशंका जताई जा रही है जिसका सीधा असर जनता और कारोबार पर पड़ेगा वस्तुओं की कीमतें आसमान छू सकती है। 1 अप्रैल, 2020 से देशभर में बीएस-6 ग्रेड के पेट्रोल- डीजल की आपूर्ति शुरू हो जाएगी इंडियन ऑयल ने इसकी शूरूआत कई शहरों से कर दी है।

Related posts

छत्तीसगढ़ सरकार ने राज्य में मजदूरों की आवाजाही पर रोक लगाने के दिए निर्देश

Shubham Gupta

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने सिक्किम का पहला हवाईअड्डा राष्ट्र को समर्पित किया

mahesh yadav

गोरखपुर में 246 फीट ऊंचा तिरंगा फहराएंगे सीएम योगी, ये है तिरंगे की खासियत

Aman Sharma