कहीं आपके फोन में तो नहीं है फर्जी एंड्राइड ऐप, ऐसे लगाएं पता

लखनऊ: आज के जमाने में मोबाइल फोन के बिना आदमी कोई भी काम नहीं होता। मोबाइल फोन के भीतर अलग-अलग गतिविधियां करने के लिए एप्लीकेशन होते हैं। ऐसे में एंड्राइड ऐप सही है या नहीं, इसकी जानकारी न हो तो यह आपके लिए खतरनाक हो सकता है। मोबाइल फोन में मौजूद जानकारी लीक हो सकती है।

आसान तरीके से लगाएं पता

मोबाइल फोन में मौजूद एंड्राइड ऐप सही है, इस बात का पता लगाने के लिए जरूरी है कि डाउनलोड करते समय कुछ विशेष बातों का ध्यान रखा जाए। सबसे पहले एप्लीकेशन के बारे में जो लोग रिव्यू किए रहते हैं, उसे पढ़ना बहुत जरूरी है। जिन लोगों ने इसका इस्तेमाल किया है, उसी के आधार पर लोग भी लिखते हैं। इसमें आपको ऐप के बारे में सच्चाई पता चल जाएगी, रेटिंग भी काफी महत्वपूर्ण होती है।

थर्ड पार्टी परमीशन देखें

डाउनलोड करने से पहले यह पता कर लें कि एंड्राइड ऐप कौन-कौन सी परमिशन मांग रहा है। अगर आपको लगता है कि एप्लीकेशन इस्तेमाल से अतिरिक्त कई सारी अधिक जानकारी इकट्ठा कर रहा है, तो भी यह फ्रॉड हो सकता है। फेक ऐप वेबजह की परमीशन लेकर जानकारी लीक करते हैं। इसके अलावा डाउनलोड करने से पहले एप्लीकेशन का डिस्क्रिप्शन पूरा पढ़ना चाहिए। कोशिश करें कि एप्लीकेशन सिर्फ गूगल प्ले स्टोर से डाउनलोड करें। डायरेक्ट गूगल से डाउनलोड करने पर कई बार फेक ऐप फोन में इंस्टॉल हो जाता है। जिसके बाद वायरस, डाटा चोरी जैसी समस्या सामने आती है।

सीएम योगी ने यूपी चुनाव 2022 के लिए मंत्रियों को दिया मूल मंत्र, दो महीने यहां रहेंगे मंत्री

Previous article

अपराध में डूब रहा बचपन, ऐसे क्रिमिनल बन रहे मासूम

Next article

You may also like

Comments

Comments are closed.

More in featured