featured धर्म

आज है आषाढ़ पूर्णिमा का व्रत, यहां जानिए चंद्रोदय का समय, पूजा की विधि और शुभ मुहूर्त

moon 1 आज है आषाढ़ पूर्णिमा का व्रत, यहां जानिए चंद्रोदय का समय, पूजा की विधि और शुभ मुहूर्त

 

आषाढ़ माह के शुक्ल पक्ष की पूर्णिमा तिथि को आषाढ़ पूर्णिमा कहा जाता है। इस दिन स्नान दान का काफी अधिक महत्व है।

 

यह भी पढ़े

 

बच्‍चों में दिखे ये लक्षण, तो करवाएं इलाज, हो सकता है डेंगू

इसके साथ ही आषाढ़ पूर्णिमा को गुरु पूर्णिमा का भी पर्व मनाया जाता है। आज के दिन गुरुओं के महान योगदान के लिए उनकी पूजा की जाती है। इसके साथ ही इस दिन वेद व्यास जी का भी जन्म हुआ था। इस कारण आषाढ़ माह की पूर्णिमा को व्यास जयंती भी मनाई जाती है।

moon 3 आज है आषाढ़ पूर्णिमा का व्रत, यहां जानिए चंद्रोदय का समय, पूजा की विधि और शुभ मुहूर्त

 

आषाढ़ पूर्णिमा व्रत 2022 तिथि और शुभ मुहूर्त

आषाढ़ माह के शुक्ल पक्ष की पूर्णिमा तिथि प्रारंभ- 13 जुलाई को सुबह 4 बजकर 1 मिनट से शुरू

आषाढ़ माह के शुक्ल पक्ष की पूर्णिमा तिथि समाप्त- 14 जुलाई रात 12 बजकर 6 मिनट पर समाप्त

उदया तिथि के अनुसार आषाढ़ पूर्णिमा व्रत 13 जुलाई को रखा जाएगा।

moon 2 1 आज है आषाढ़ पूर्णिमा का व्रत, यहां जानिए चंद्रोदय का समय, पूजा की विधि और शुभ मुहूर्त

 

आषाढ़ पूर्णिमा व्रत के दिन चंद्रोदय- 13 जुलाई रात 08 बजकर 59 मिनट पर

आषाढ़ पूर्णिमा व्रत 2022 की पूजा विधि

इस दिन ब्रह्म मुहूर्त में उठकर सभी कामों ने निवृत्त होकर स्नान आदि कर लें। गंगा स्नान कर लें, तो ज्यादा बेहतर है। अगर किसी कारणवश गंगा स्नान के लिए नहीं जा पाए है, तो घर में ही स्नान के पानी में थोड़ा सा गंगा जल मिला लें। स्नान करने के बाद साफ-सूखे वस्त्र पहन लें। अब पूजा घर में जाकर आराध्य की पूजा करने के साथ भगवान विष्णु की पूजा करें।

moon आज है आषाढ़ पूर्णिमा का व्रत, यहां जानिए चंद्रोदय का समय, पूजा की विधि और शुभ मुहूर्त

भगवान विष्णु के संग मां लक्ष्मी को फूल, माला, सिंदूर, पीला चंदन, अक्षत आदि लगा दें। इसके बाद भोग में मिठाई खिला दें और जल पिला दें। इसके बाद धूप और दीप जला दें और सत्यनारायण की कथा का पाठ कर करें। इसके साथ ही भगवान विष्णु का मनन करते हुए सहस्त्रनाम पाठ का भी पाठ कर लें। अंत में विधिवत आरती करने के बाद प्रसाद ग्रहण कर लें।

 

moon 1 आज है आषाढ़ पूर्णिमा का व्रत, यहां जानिए चंद्रोदय का समय, पूजा की विधि और शुभ मुहूर्त

Related posts

हेलिकॉप्टर हादसा: CDS बिपिन रावत के साथ थे देवरिया के ग्रुप कैप्टन वरुण सिंह, उड़ा चुके हैं फाइटर प्लेन

Rahul

Coronavirus India Update: कोरोना के डेढ़ लाख से अधिक मामले आए सामने, 10.21% हुई देश में संक्रमण दर

Neetu Rajbhar

जेटली बताएं कि क्या ऊपर से ऑर्डर मिला था कि माल्या को देश  से भागने दें- राहुल गांधी

mahesh yadav