September 25, 2021 4:47 am
featured देश

राम मंदिर के अशुभ मुहूर्त की वजह अमित शाह और पुजारी को हुआ कोरोना..

amit shah राम मंदिर के अशुभ मुहूर्त की वजह अमित शाह और पुजारी को हुआ कोरोना..

राम मंदिर जन्म भूमि का पूजन 5 अगस्त को होना है। जिसकी अयोध्या में खूब तैयारियां चल रहीं हैं। इस बीच गृह मंत्री अमित शाह सगहित राम मंदिर के पुजारी कोरोना पॉजीटिव पाये गये हैं। और अब इस मुद्दे को राजनैतिक रंग देते हुए कांग्रेसी दिग्विजय सिंह ने एक विवादित बयान देकर सियासी पारा चढ़ा दिया है।

digvijay Singh राम मंदिर के अशुभ मुहूर्त की वजह अमित शाह और पुजारी को हुआ कोरोना..
दिग्विजय सिंह ने अमित शाह के अस्पताल में भर्ती होने पर ट्वीट करते हुए लिखा कि ये सनातम हिंदू धर्म की मान्यताओं को नजरअंदाज करने का परिणाम है। दिग्विजय सिंह ने कई सारे ट्वीट किए जिसमें उन्होंने विस्तार से बताया है कि कैसे सनातन हिंदू धर्म की मान्यताओं को नजरअंदाज किया गया है।कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह ने इसे अयोध्या में पांच अगस्त को राम मंदिर के लिए होने वाले भूमि पूजन के मुहूर्त से जोड़ दिया है। वहीं, उन्होंने बीजेपी पर सनातन हिंदू धर्म की मान्यताओं को नज़रअंदाज करने का आरोप लगाया है। उन्होंने सोमवार को एक के बाद एक ट्वीट करके बीजेपी और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से सवाल पूछे। उन्होंने यह भी कहा कि राम मंदिर का शिलान्यास करने का मुहूर्त अशुभ है। ऐसे में इसे टाल दिया जाना चाहिए।

उन्होंने पीएम मोदी से मुहूर्त को टालने के लिए लिखा, ‘मैं मोदी जी से फिर अनुरोध करता हूं कि 5 अगस्त के अशुभ मुहुर्त को टाल दीजिए। सैंकड़ों वर्षों के संघर्ष के बाद भगवान राम मंदिर निर्माण का योग आया है अपनी हठधर्मीता से इसमें विघ्न पड़ने से रोकिए।’
दिग्विजय सिंह ने कहा, ‘मोदी जी, आप अशुभ मुहुर्त में भगवान राम मंदिर का शिलान्यास कर और कितने लोगों को अस्पताल भिजवाना चाहते हैं? योगी जी आप ही मोदी जी को समझाइए। आपके रहते हुए सनातन धर्म की सारी मर्यादाओं को क्यों तोड़ा जा रहा है? और आपकी क्या मजबूरी है जो आप यह सब होने दे रहे हैं?’

अपने ट्वीट में उन्होंने स्वामी स्वरूपानंद का हवाला देते हुए कहा, ‘5 अगस्त को भगवान राम के मंदिर शिलान्यास के अशुभ मुहुर्त के बारे में विस्तार से जगदगुरू स्वामी स्वरूपानंद जी महाराज ने सचेत किया था। मोदी जी की सुविधा पर यह अशुभ मुहुर्त निकाला गया। यानी मोदी जी हिंदू धर्म की हजारो वर्षों की स्थापित मान्यताओं से बड़े हैं!! क्या यही हिंदुत्व है?’

https://www.bharatkhabar.com/karnatakas-bs-bs-yeddyurappa-gets-corona/
दिग्विजय सिंह के इन बयानों पर लोगों की कई तरह की प्रतिक्रियाएं आ रहीं है। इसके साथ ही जुबानी जंग भी शुरू हो गई है।

Related posts

सर्वे में आया सामने, अगर आज चुनाव हुए तो रजनीकांत की पार्टी जीतेगी 33 सीटें

Breaking News

UP निकाय चुनाव : कांग्रेस-सपा की राह अलग, अकेले मैदान में उतरेगी कांग्रेस

shipra saxena

यूपी: 2019 बैच के 17 IAS को मिली तैनाती, जानिए किसे मिला कौन सा जिला  

Shailendra Singh