October 28, 2021 10:15 pm
featured यूपी

धर्मांतरणः दलित महिला ने सीएम योगी को लिखा पत्र, लगाई न्याय की गुहार

धर्मांतरणः दलित महिला ने सीएम योगी को लिखा पत्र, लगाई न्याय की गुहार

कानपुरः उत्तर प्रदेश के कानपुर जिले में एक बार फिर से जबरन धर्म परिवर्तन का मामला सामने आया है। एक दलित महिला ने पड़ोस में रहने वाले परिवार पर जबरन इस्लाम कबूल करने के लिए प्रताड़ित करने का आरोप लगाया है।

पीड़िता का आरोप है कि पहले इन लोगों ने उसे पैसे का लालच देकर धर्म परिवर्तन कराने के लिए कहा लेकिन जब उसने मना कर दिया तो दबंग पड़ोसियों ने उसके और उसकी बेटियों के साथ छेड़छाड़ और मारपीट की। महिला ने बताया कि उसने इस बाबत पुलिस ने शिकायत भी की लेकिन किसी भी तरह की कोई कार्रवाई नहीं की गई।

ये है पूरा मामला

दरअसल, पूरा मामला बर्रा थाना क्षेत्र का है, जहां बर्रा 8 इलाके में रहने वाली दलित महिला रानी गौतम अपनी दो बेटियों के साथ झोपड़ी में रहती हैं। महिला का आरोप है कि पड़ोस में रहने वाला मुस्लिम परिवार गरीबी का वास्ता देकर व्यापार के लिए 20 हजार रुपए देने की बात कह रहा है। मदद के नाम पर इस्लाम कबूल करने के लिए दबाव बना रहा है।

पीड़िता का कहना है कि उसने धर्म परिवर्तन करने से मना कर दिया तो सलमान और सद्दाम ने अपने साथियों के साथ मिलकर उसकी नाबालिग बेटियों के साथ बीती 9 जुलाई को मारपीट की। घटना की शिकायत महिला ने बर्रा थाने में दर्ज कराई।

सीएम से लगाई गुहार

महिला का आरोप है कि शिकायत के बावजूद भी पुलिस ने कोई कार्रवाई नहीं की, जिसके कारण आरोपियों के हौसले बुलंद हैं। वहीं, अब महिला ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को पत्र लिखकर न्याय की गुहार लगाई है। पीड़ता का कहना है आरोपी इस्लाम कबून नहीं करने पर जान से मारने की धमकी दे रहे हैं।

वहीं, इस पूरे मामले में एडीसीपी डॉ अनिल कुमार कहना है कि पिछले 12 जुलाई को एक पक्ष ने मारपीट की शिकायत दर्ज कराई थी। मामले के मारपीट की धाराओं मे दर्ज किया गया था। शुक्रवार को दूसरे पक्ष ने भी तहरीर दी है। जांच की जा रही है। रिपोर्ट के मुताबिक आवश्यक कार्रवाई की जायेगी।

Related posts

सचिन पायलट के साथ उनके सभी विधायकों पर गिरी गाज, जाने क्या बोले रणदीप सुरजेवाला

Rani Naqvi

सीएम योगी ने जागरण फोरम के सत्र में ‘सांस्कृतिक विरासत और राजनीति’ को संबोधित किया

Rani Naqvi

कोविड कंट्रोल रूम से लोगों को किया जाएगा जागरूक

sushil kumar