featured Travel देश

दशहरा, दिवाली पर भक्तों के लिए नहीं खुलेंगे जगन्नाथ मंदिर के द्वार

जगन्नाथ मंदिर दशहरा, दिवाली पर भक्तों के लिए नहीं खुलेंगे जगन्नाथ मंदिर के द्वार

ओडिशा के पुरी में स्थित भगवान जगन्नाथ का मंदिर इस वर्ष दशहरा यानी 15 अक्टूबर और दिवाली यानी 4 नवंबर को श्रद्धालुओं के लिए बंद रहेगा। यह जानकारी मंदिर प्रशासन की ओर से गुरुवार यानी आज जारी की गई। श्री जगन्नाथ मंदिर प्रशासन (एसजेटीए) द्वारा जारी अपने एसओपी में कहा कि इस तरह के उत्सव के अवसरों पर अपेक्षित बड़ी भीड़ के कारण कोविड-19 के प्रसार में किसी भी बढ़ोतरी से बचने के लिए, मंदिर शुक्रवार को सार्वजनिक दर्शन के लिए बंद रहेगा।

एसओपी के मुताबिक, ” जगन्नाथ मंदिर के कपाट 16 अक्टूबर (भसानी), 4 नवंबर (दिवाली), 15 नवंबर (बड़ी एकादशी) और 19 नवंबर (कार्तिका पूर्णिमा) दोपहर 12 बजे से बंद रहेंगे। हालांकि, मंदिर के द्वार 20 अक्टूबर (कुमार पूर्णिमा) को दर्शन के लिए खुला रहेगा।

गौरतलब है कि मंदिर प्रशासन नहीं कोरोना वायरस के प्रसार को रोकने व मंदिर परिसर की साफ सफाई के लिए मंदिर को रविवार सार्वजनिक दर्शन के लिए बंद रखा है।

एसओपी में कहा गया है कि जिस दिन मंदिर खुलेगा उस दिन दर्शन का समय सुबह 7:00 बजे से रात 9:00 बजे तक रहेगा।

 मंदिर परिसर में covid-19 प्रतिबंध जारी रहेंगे। मंदिर में आने वाले सभी श्रद्धालुओं को अपनी यात्रा से 96 घंटे के अंदर आरटी-पीसीआर टेस्ट की नेगेटिव रिपोर्ट या कोविड-19 टीकाकरण का अंतिम प्रमाण प्रस्तुत करना।

श्री जगन्नाथ मंदिर प्रशासन एक वरिष्ठ अधिकारी बच्चों, पहले से किसी गंभीर बीमारी से पीड़ित व्यक्ति, गर्भवती महिलाओं को कोरोना काल मे मंदिर नहीं आने की सलाह दी है।

Related posts

सवा सौ करोड़ भारतवासी ही हमारी टीम इंडिया हैं- PM मोदी

piyush shukla

bharatkhabar

राहुल गांधी के बाद अब सैम पित्रोदा ने मानी गलती, बोले 1984 दंगे पर बयान गलत समझ लिया गया

bharatkhabar