featured दुनिया देश

इंडोनेशिया विमान हादसे की जांच रिपोर्ट, विमान में पहले से ही थी खराबी

इंडोनेशिया विमान हादसे की जांच रिपोर्ट, विमान में पहले से ही थी खराबी

इंडोनेशिया में बीते महीने हुए विमान हादसे पर शुरुआती रिपोर्ट आ गई है। इस रिपोर्ट में कहा गया है कि विमान में तकनीकी गड़बड़ी की बात कही गई है। बाता दें कि विमान चला रहे इंडियन पायलट भव्य सुनेजा और उनके सहयोगी ने अंतिम पल तक पार पाने की कोशिश की है। लेकिन उन्हें इस में सफलता नही मिली।

 

इंडोनेशिया विमान हादसे की जांच रिपोर्ट, विमान में पहले से ही थी खराबी
इंडोनेशिया विमान हादसे की जांच रिपोर्ट, विमान में पहले से ही थी खराबी

इसे भी पढ़ेःइंडोनेशिया में आए भूंकप और सुनामी का फायदा उठाकर 3 जेल से भागे 1400 कैदी

गौरतलब है कि निजी एयरलाइन, लायन एयर का बोइंग-737 मैक्स-8 विमान 29 अक्टूबर को समुद्र में गिर गया था। इस हादसे में विमान में सवार सभी 189 यात्रियों और चालक दल के सदस्यों की मौत हो गई थी।मालूम हो कि विमान को भारतीय पायलट भव्य सुनेजा चला रहे थे।उनके को-पायलट जकार्ता निवासी हरविनो थे। विमान के जकार्ता से उड़ने के मज 13 मिनट बाद ही एयर ट्रैफिक कंट्रोल से उसका संपर्क खत्म हो गया था।

इसे भी पढ़ेःभूकंप के तेज झटकों से फिर हिला इंडोनेशिया,सुंबा द्वीप में 5.9 तीव्रता वाले भूकंप के झटके

बता दें कि बोइंग-737 मैक्स-8 विमान इस श्रेणी का नवीनतम विमान है। विमान की दिशा को नियंत्रित करने की कंप्यूटरीकृत व्यवस्था है।उड़ने के दौरान विमान से टकराने वाली हवा के आधार पर यह कंप्यूटर पैनल नोक की स्थिति का आकलन करता है। अगर नोक ज्यादा ऊपर की ओर होती है तो यह उसे खुद नीचे की ओर करने का कमांड दे देता है। फ्लाइट डाटा का अध्ययन करने वाले अधिकारियों के मुताबिक विमान के इस कंप्यूटर पैनल में गड़बड़ी आई थी।

कंप्यूटर पैनल में खराबी की वजह से विमान नीचे की ओर गिर रहा था। पायलट भव्य सुनेजा और उनके को-पायलट ने विमान को ऊपर करने का भरसक प्रयास किया था। फ्लाइट रिकॉर्डर से मिले डाटा से स्पष्ट है कि विमान ने कुछ मिनटों के अंदर ही विमान कई बार ऊपर-नीचे हुआ।विमान बनाने वाली कंपनी बोइंग के अधिकारियों के मुताबिक कंप्यूटर पैनल में गड़बड़ी की स्थिति में पायलटों के लिए जरूरी निर्देश विमान की चेकलिस्ट में थे। जांच रिपोर्ट में यह स्पष्ट नहीं है कि पायलटों ने उस चेकलिस्ट के हिसाब से जरूरी कदम उठाया था या नहीं। कॉकपिट रिकॉर्डर मिलने पर इस बारे में स्थिति का पता चल सकता है।

गौरतलब है कि रिपोर्ट से विमानन कंपनी लायन एयर की व्यवस्था पर गंभीर सवाल उठ रहे हैं। जांचकर्ताओं का कहना है कि विमान में पहले भी खामी देखी गई थी। दुर्घटना से ठीक पहले वाली उड़ान में विमान के एयरस्पीड इंडिकेटर में गड़बड़ी का पता लगा था। नेशनल ट्रांसपोर्ट सेफ्टी कमेटी के एविएशन हेड नरकायो उतोमो ने कह कि विमान उड़ाने के लायक नहीं था। इसे उड़ान भरने की मंजूरी नहीं दी जानी चाहिए थी। वहीँ जांचकर्ताओं के मुताबिक यह साफ नहीं है कि समस्या विमान बनाने वाली कंपनी बोइंग से संबंधित है या पिर विमानन कंपनी लायन एयर से संबंधित है।

महेश कुमार यादव

Related posts

कंगना रनौत ने बाल ठाकरे के इंटरव्यू से शिवसेना पर बोला हमला

Samar Khan

रविशंकर प्रसाद: पेट्रोल-डीजल की बढ़ती कीमतों पर सरकार का कोई हाथ नहीं

mahesh yadav

क्रिकेट एसोसिएशन ऑफ उत्तराखंड को BCCI ने दी मान्यता, आगामी टूर्नामेंट कराएगा CAU

bharatkhabar