Breaking News featured देश

किसान आंदोलनः सरकार ने बाॅर्डर पर की इंटरनेट सेवा बंद, जानें कब तक लागू रहेगी ये पाबंदी

WhatsApp Image 2021 02 01 at 5.00.43 PM किसान आंदोलनः सरकार ने बाॅर्डर पर की इंटरनेट सेवा बंद, जानें कब तक लागू रहेगी ये पाबंदी

नई दिल्ली। कृषि कानूनों के विरोध में किसान आंदोलन को दो महीने से ज्यादा हो चुके हैं। किसान अपनी मांगों को लेकर दिल्ली के चारों ओर डटे हुए हैं। किसानों का कहना है कि जब तक सरकार द्वारा तीनों कृषि कानूनों को वापस नहीं लिया जाता है, तब तक हम यहीं डटे रहेंगे। इसके साथ ही पुलिस ने सुरक्षा व्यवस्था पहले की अपेक्षा अधिक बढ़ा दी है। प्रशासन पहले की अपेक्षा अधिक सर्तक नजर आ रहा है। जैसा कि सभी जानते हैं गणतंत्र दिवस के मौके पर ट्रैक्टर मार्च के दौरान हिंसा भड़क उठी। जिसके चलते अब प्रशासन सर्तक दिखाई दे रहा है। जिसके चलते टिकरी बार्डर पर पुलिस ने बड़ी-बड़ी कीले लगवाई हैं। इसके साथ ही गाजीपुर, सिंघु, टीकरी बॉर्डर पर कल रात 11 बजे तक के लिए इंटरनेट बंद कर दी गई है। यह फैसला किसान आंदोलन के चलते लिया गया है।

तीनों बाॅर्डरों पर इंटरनेट बंद-

बता दें कि किसान आंदोलन दिनों दिन उग्र होता जा रहा है। जिसके चलते पुलिस ने पहले से ही तैयारियां शुरू कर दी हैं। दिल्ली की अलग-अलग सीमाओं पर चल रहे किसान आंदोलन को देखते हुए पुलिस ने बाॅर्डर पर सुरक्षा व्यवस्था मजबूत कर दी है। जिसके चलते पुलिस ने दिल्ली के अंदर आने-जाने वाले सभी रास्तों को बंद करना शुरू कर दिया है। ताकि कोई भी दिल्ली में प्रवेश न कर सकें। इसके साथ ही बढ़ते किसान आंदोलन के चलते सरकार आए दिन कड़ा रूख करती हुई नजर आ रही है। जिसके चलते आज गाजीपुर, सिंघु और टिकरी बाॅर्डर पर सरकार ने कल यानि 2 फरवरी रात 11 बजे तक के लिए इंटरनेट सेवा बंद कर दी हैं। सरकार और प्रशासन आए दिन किसान आंदोलन के चलते सुरक्षा व्यवस्था को मजबूत करने में लगा है।

पुलिस ने टिकरी बाॅर्डर पर सड़क में लगवाई कीलें-

इसके साथ ही टिकरी बाॅर्डर पर पुलिस ने सड़क खोदकर बड़ी-बड़ी कीले लगवा दी है। जिससे कोई भी दिल्ली के अंदर न आ सके। गणतंत्र दिवस पर हुई हिंसा को देखते हुए पुलिस प्रशासन ने यह कड़ा कदम उठाया है। टिकरी बाॅर्डर पर लगाई गई कीलों की परत इतनी मोटी है कि ट्रैक्टरों का इन्हें पार कर पाना मुश्किल है। साथ ही बाॅर्डर पर भारी पुलिस बल तैनात किया गया। इसके साथ ही गाजीपुर बाॅर्डर पर स्थायर बैरीकेडिंग भी लगाई जा रही है। जिससे पार कर पाना किसानों के लिए मुश्किल होगा।

 

 

Related posts

छत्तीसगढ़ के महासमुंद जिले में विधवा महिला से तीन कर्मचारियों समेत 4 लोगों ने किया सामूहिक दुष्कर्म

Rahul srivastava

जम्मू: अवैध रोहिंग्याओं और बांग्लादेशियों के खिलाफ उतरा एनएसएफ

Breaking News

संत कबीर नगर में रेलवे ट्रैक के पास मिले 4 जिंदा बम, धमाके में एक घायल

shipra saxena