featured देश

भारत में टिक टॉक के बैन होने से चीन को हुआ भारी नुकसान..

tik tok भारत में टिक टॉक के बैन होने से चीन को हुआ भारी नुकसान..

सीमा को लेकर भारत और चीन के बीच लगातार विवाद बढ़ता जा रहा है। जिसको देखते हुए भारत ने चीन के 59 ऐप्स को बैन कर दिया है। जिसकी वजह से चीन को भारी नुकसान हुआ है। चीन को सबसे ज्यादा नुकसान टिक टॉक के बैन होने से हुआ है।चीन को सिर्फ टिक टॉक के बैन होने से 6 अरब का नुकसान हुआ है।सिर्फ एक ऐप के बैन होने से अगर इतने नुकसान का अंदाजा लगाया जा रहा है तो समझा जा सकता है कि 59 ऐप के बैन होने से चीन को कितना बड़ा आर्थिक झटका लगेगा।

india vs chaina भारत में टिक टॉक के बैन होने से चीन को हुआ भारी नुकसान..
ग्लोबल टाइम्स भारत के फैसले को लेकर हमलावर रहा है। उसने कहा है कि भारत में चीनी प्रॉडक्ट बैन करने से भारत की अर्थव्यवस्था पर ही असर पड़ेगा, चीन पर नहीं। हालांकि, उसने माना है कि चीनी कंपनियों और निवेशकों के लिए भारत एक बड़ा मार्केट रहा है जिस पर पिछले तीन साल में उनकी नजर रही है। ऐसे में भारत के प्रतिकूल कदम का असर चीन की कंपनियों पर भी पड़ना तय है।जिसकी वजह चीन बुरी तरह से बौखलाया हुआ है। और भारत को इसकी कीमत चुकाने की धमकीनभी दे रहा है।

डिजिटल इकोनॉमी पर नजर रखने वाले विशेषज्ञों का मानना है कि इन चीनी कंपनियों के लिए चिंता की सबसे बड़ी बात यह है कि अब भारत के नक्‍शे कदम पर दुनिया के अन्‍य देश भी चल सकते हैं। अमेरिकी कंपनियों गूगल और फेसबुक से इतर भारत और दक्षिण पूर्व एशिया के देश कुछ ऐसे बाजार थे जहां पर चीनी कंपनियां अपने देश के अलावा सफलता के लिए दांव लगा रही थीं। चीन विकसित होने के बाद इन कंपनियों ने दूसरे देशों में निवेश किया या सेवा शुरू की।

https://www.bharatkhabar.com/chinese-forces-write-china-in-huge-letters-on-land-disputed-with-india/
चीन की इन्हीं हरकतों के चलते पूरी दुनिया में चीन की आलोचना हो रही है। लेकिन इसके बाद भी चीन सुधरने की नाम नहीं ले रहा है।

Related posts

बेरोजगारी से परेशान युवक को पुलिस ने किया गिरफ्तार,फडणवीस के कार्यक्रम में किया था हंगामा

Rani Naqvi

ISRO सेटेलाइट की वजह से साइक्लोन पर नजर रखने में मिली मदद, यूएन ने की सराहना

bharatkhabar

तमिलनाडु के राज्यपाल बनवारीलाल पुरोहित कोरोना पॉजिटिव, दोपहर 12 हुए थे अस्पताल में भर्ती

Rani Naqvi