featured धर्म

5 जुलाई को लगने वाला चंद्र ग्रहण किन राशियों के लिए ला रहा मुसीबत..

moon 3 5 जुलाई को लगने वाला चंद्र ग्रहण किन राशियों के लिए ला रहा मुसीबत..

इस साल की तीसरा ग्रहण यानि की चंद्र ग्रहण 5 जुलाई को लगने जा रहा है। जिसका कई राशियों पर प्रभाव पड़ेगा। लेकिन आप चंद्रग्रहण को भारत में नहीं देख पाएंगे। भारत को छोड़कर दुनिया के कई हिस्सों मे चंद्र ग्रहण देखने को मिलेगा। 5 जुलाई को गुरु पूर्णिमा पर चंद्र ग्रहण लगेगा। यह चंद्र ग्रहण अमेरिका, यूरोप और ऑस्ट्रेलिया में दिखाई  देगा।  इस उपच्छाया चंद्र ग्रहण में चंद्रमा के आकार में किसी तरह का कोई भी परिवर्तन नहीं होगा। इसमें सिर्फ चंद्रमा पर एक धुंधली सी छाया पड़ेगी। उपच्छाया चंद्र ग्रहण में चंद्रमा पर पृथ्वी की बाहरी छाया ही पड़ेगी। ज्योतिष में इस तरह के चंद्र ग्रहण को ग्रहण के श्रेणी में नहीं रखा जाता है।

moon 3 5 जुलाई को लगने वाला चंद्र ग्रहण किन राशियों के लिए ला रहा मुसीबत..
5 जुलाई को नहीं माना जाएगा सूतक काल
5 जुलाई को लगने वाला यह चंद्र ग्रहण भारत में दिखाई नहीं देगा इस कारण से इसका सूतक काल नहीं माना जा सकेगा। ज्योतिष शास्त्र के अनुसार चंद्र ग्रहण के 9 घंटे पहले और सूर्य ग्रहण के 12 घंटे पहले से ही सूतक काल लग जाता है। सूतक काल को अशुभ समय माना जाता है इस दौरान किसी भी तरह का कोई भी शुभ कार्य नहीं किया जाता है। इसके अलावा पूजा-पाठ और भोजन करना भी वर्जित माना गया है।

कितने बजे से लगेगा चंद्र ग्रहण?
यह चंद्रग्रहण 5 जुलाई को गुरु पूर्णिमा के दिन सुबह 8 बजकर 38 मिनट से आरंभ होगा। 09 बजकर 59 मिनट में यह परमग्रास में होगा और 11 बजकर 21 मिनट पर समाप्त होगा। इस प्रकार चंद्रग्रहण की अवधि 2 घंटा 43 मिनट और 24 सेकेंड की होगी।

किस राशि को करेगा प्रभावित?
ज्योतिष विज्ञान के नजरिए से देखें तो यह चंद्र ग्रहण धनु राशि में लगेगा। ज्योतिषीय गणना के अनुसार, धनु राशि में 30 जून को देव गुरु बृहस्पति प्रवेश कर चुके हैं। इस राशि में राहु भी मौजूद है। अतः ग्रहण के दौरान बृहस्पति पर राहु की दृष्टि धनु राशि को प्रभावित करेगी। चंद्रमा कमजोर होने से मन अशांत और नकारात्मक विचार आ सकते हैं। इसलिए इस अवस्था में सावधान रहें। मन को एकाग्र रखने के लिए ध्यान लगाएं।

चंद्र ग्रहण का प्रभाव
माना जा रहा है कि इसके प्रभाव से ग्रहों की स्थिति में भारी उलटफेर देखने को मिल सकता है। माना जा रहा है कि इसके प्रभाव से लोगों को भीषण प्राकृतिक आपदा का सामना करना पड़ सकता है। बड़े देशों के बीच दुश्‍मनी की खाई और भी गहरी हो सकती है। महंगाई की मार लोगों को लंबे समय तक झेलनी पड़ सकती है।

https://www.bharatkhabar.com/chinese-forces-write-china-in-huge-letters-on-land-disputed-with-india/
इस बार लगने वाला चंद्र ग्रहण ज्यादा प्रभावित नहीं कर रहा है। इसलिए आप इस दिन पूजा पाठ कर सकते हैं। क्योंकि 5 जुलाई को लगने वाले चंद्र ग्रहण में सूतक काल नहीं है।

Related posts

जानिए पशुधन नियम पर सरकार क्यों ले रही है यू-टर्न

Pradeep sharma

फैक्ट्री मालिकों ने काम से निकाला तो 90 मजदूर पैदल ही घर जाने के लिए निकल पड़े

Rani Naqvi

बिहार विद्यालय परीक्षा समिति का फैसला, स्क्रूटिनी के आवेदन की अंतिम तीथि 19 जून होगी

mahesh yadav