January 22, 2022 2:09 am
featured उत्तराखंड

कोरोना काल में टैक्सी संचालकों का रोजगार ठप्प, भुखमरी की कगार पर पहुंचे लोग

Capture 5 कोरोना काल में टैक्सी संचालकों का रोजगार ठप्प, भुखमरी की कगार पर पहुंचे लोग

कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिए लगाए गए कोविड कर्फ्यू का असर टैक्सी-गाड़ी संचालकों पर भी पड़ा है।

ये भी पढ़ें: श्मशान में जाकर प्रेमी ने खुद को मारी गोली

लोगों का आवगमन बंद होने से टैक्सी संचालकों का रोजगार ठप्प हो गया है। आलम ये है कि टैक्सी संचालकों के सामने भुखमरी की नौबत आ गई है।

जिसको लेकर जागेश्वर विधायक और पूर्व स्पीकर गोविंन्द सिंह कुंजवाल ने आवाज उठाते हुए सरकार से टैक्सी संचालकों के टैक्स समेत उनकी कुछ महीने की लोन की किश्त को माफ करने की मांग की है।

कोरोना ने रोकी ग्रामीणों की रोजी-रोटी

बता दें की पहाड़ी क्षेत्रों में रोजगार के अवसर नहीं होने के कारण यहां ज्यादातर ग्रामीणों के रोजगार का जरिया टैक्सी गाड़ियां हैं। जिनसे इनकी रोजी रोटी चलती है। लेकिन कोरोना की रोकथाम को लगे लॉकडाउन के कारण अधिकांश टैक्सी गाड़ियां नहीं चल पा रही है। जिस वजह से टैक्सी संचालकों ,चालको के सामने रोजी रोटी का संकट खड़ा हो गया है।

विधायक ने सरकार से की राहत देने की मांग

इनकीं समस्या को लेकर जागेश्वर के विधायक गोविंन्द सिंह कुंजवाल ने सरकार से इनको राहत देने की मांग की है। कुंजवाल ने कहा है कि टैक्सी गाड़िया बंद होने से टैक्सी संचालक काफी परेशान हैं। उनकी गाड़िया लंबे समय से खड़ी हैं। लेकिन उन्हें टैक्स भी भरना पड़ रहा है।

‘टैक्स समेत 5 से 6 महीने का लोन माफ हो’

यही नहीं कई लोगों ने बैंक से लोन लेकर गाड़ियां ली है, रोजगार ठप्प होने के कारण आज उनके सामने विकट स्थिती पैदा हो गयी है। उनको आज अपनी आजीविका चलानी मुश्किल हो गयी है। ऐसे में सरकार से उन्होंने मांग की कि सरकार को उनका टैक्स समेत 5 से 6 महीने की लोन की किश्त माफ कर देनी चाहिए। ताकि वो इस विपदा से उबर सके।

Related posts

उत्तर प्रदेश: 56वीं ऑल इंडिया DGP-IGP कॉन्फ्रेंस का दूसरा दिन, पीएम मोदी पहुंचे पुलिस मुख्यालय

Rahul

संकष्टी गणेश चतुर्थी पर विघ्नहर्ता करेंगे हर मनोकामना पूर्ण, ऐसे करें पूजा

mohini kushwaha

ऑपिनियन पोल: गुजरात चुनाव में बीजेपी की बल्ले-बल्ले,लेकिन वोट प्रतिशत हुआ कम

Breaking News