कोरोना का प्रकोप देख डीएम हुए सख्त, लखनऊ विश्वविद्यालय को बंद करने का दिया निर्देश, लगाई फटकार

लखनऊ: राजधानी स्थित लखनऊ विश्वविद्यालय में कोरोना के कहर को देखते हुए विश्वविद्यालय संघ ने जिलाधिकारी अभिषेक प्रकाश से मुलाकात की है। उन्होंने विश्वविद्यालय को बंद करवाने के लिए डीएम से औपचारिक भेंट की है।

कुलपति को फटकारा!

वहीं विश्वविद्यालय कर्मचारी संघ की बात को सुनकर डीएम अभिषेक प्रकाश ने एडीएम ट्रांस गोमती को कड़े शब्दों में निर्देश दिए हैं। डीएम ने लखनऊ विश्वविद्यालय को बंद करने की कार्रवाई के निर्देश जारी कर दिए हैं।

इसके अतिरिक्त जिलाधिकारी ने लखनऊ विश्वविद्यालय के कुलपति पर भी नाराजगी जाहिर की है। उन्होंने विश्वविद्यालय के कुलपति से साफ शब्दों में कहा है कि अगर वो निर्देशों का पालन नहीं करेंगे तो वो खुद वाइस चांसलर का चार्ज ले लेंगे।

विवि. में हो चुकी है पांच की मौत

बता दें कि लखनऊ विश्वविद्याल में कोरोना से अब तक कुल पांच लोगों की मौत हो चुकी है। इसके अतिरिक्त कई शिक्षक और कर्मचारी कोरोना पॉजिटिव हैं और वो गंभीर हालत में अस्पताल के आईसीयू में भर्ती हैं।

लखनऊ विश्वविद्यालय शिक्षक संघ और कर्मचारी संघ लगातार डीएम से विश्वविद्यालय को बंद करने की मांग कर रहा था। लखनऊ विश्वविद्यालय में कोरोना की स्थिति इस समय नियंत्रण से बाहर निकल चुकी है।

छात्रों में भय का माहौल

कोरोना के कारण लखनऊ विश्वविद्यालय कैंपस में छात्र-छात्राओं में भय की स्थिति है। विश्वविद्यालय में रोज कोरोना के नए केस सामने आ रहे हैं। इस मामले की गंभीरता को देखते हुए जिलाधिकारी अभिषेक प्रकाश ने तुरंत कार्रवाई करते हुए एडीएम ट्रांस गोमती को लखनऊ विश्वविद्यालय को बंद करवाने के सख्त निर्देश दिए हैं।

लखनऊ में स्थिति भयावह!

राजधानी लखनऊ में कोरोना संक्रमण की स्थिति भयावह हो गई है। लखनऊ में रोज सैकड़ों कोरोना संक्रमित केस सामने आ रहे हैं। राजधानी लखनऊ में कोरोना की सेकेंड वेव में अब तक करीब 20 मरीजों की मौत हो चुकी है।

चौगुनी गति से आ रहे मरीज 

वहीं हजारों कोरोना संक्रमित मरीज अपना इलाज शहर के विभिन्न अस्पतालों में करा रहे हैं। कोरोना वायरस की सेंकेंड वेव, पहली लहर से ज्यादा खतरनाक साबित हो रही है। यूपी में अब दोगुने नहीं बल्कि चौगुने गति से कोरोना संक्रमित मरीज सामने आ रहे हैं। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के लाख प्रयासों के बाद भी कोरोना संक्रमित केस थमने का नाम ही नहीं ले रहे हैं।

मिशन शक्ति अभियान : 456 अभियुक्‍तों को आजीवन कारावास, 12 को फांसी

Previous article

हाउस टैक्‍स कम कराने के नाम पर वसूली, जांच व एफआईआर के निर्देश

Next article

You may also like

Comments

Comments are closed.

More in featured