देश featured राज्य

दिल्ली पुलिस ने सुलझाई दिलशाद गार्डन किडनैपिग केस की गुत्थी, आरोपी की एनकाउंटर में मौत

dilshad garden kidnaping case

नई दिल्ली। दिलशाद गार्डन से नर्सरी क्लास के बच्चे की किडनैपिंग का मामला आखिर दिल्ली पुलिस ने सुलझा ही लिया। इस वारदात को 25 जनवरी को अंजाम दिया गया था। पुलिस ने अगवा हुए बच्चे को किडनैपर्स के चंगुल से छुड़ा लिया है। इस दौरान एक बदमाश की मौत हो गई। वहीं दूसरा बदमाश घायल हो गया जिसके बाद उसे जीटीबी अस्पताल में भर्ती कराया गया। पुलिस ने इस मामले में तीसरे आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। दरअसल 25 जनवरी की सुबह रिहानशअपनी बहन के साथ सिकूल बस से स्कूल जा रहा था। तभी अचानक दिलशाद गार्डन इलाके में बाइक सवार 2 बदमाशों ने बस ड्राइवर के पैर में गोली मारकर रिहानश को अगवा कर लिया था। 28 जनवरी को जब अपहरणकर्ताओं ने फिरौती की रकम के लिए परिवार से 50 लाख की फिरौती मांगी और इसी से दिल्ली पुलिस को सुराग मिला।

dilshad garden kidnaping case
dilshad garden kidnaping case

बता दें कि आखिरकार 12 दिन की मशक्कत के बाद पुलिस को अपहरणकर्ताओं की सही लोकेशन का पता चला। साहिबाबाद के शालीमार सिटी में एबोय अपार्टमेंट के फ्लैट नम्बर 505 से दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच ने सोमवार रात करीब 1 बजे दबिश दी। पुलिस के मुताबिक, अपहरणकर्ताओं ने पुलिस टीम पर फायरिंग की और इस मुठभेड़ में एक बदमाश रवि मारा गया, तो दूसरा बदमाश पंकज घायल अवस्था में पकड़ लिया गया। पुलिस ने तीसरे आरोपी नितिन को भी गिरफ्तार कर लिया है।

वहीं इस मुठभेड़ में क्राइम ब्रांच के इंस्पेक्टर विनय त्यागी की बुलेटप्रूफ़ जैकेट में भी एक गोली लगी। बच्चा सकुशल बरामद कर लिया गया है। एबोय अपार्टमेंट के गार्ड सुनील ने बताया कि रवि, पंकज अपहरणकर्ता यहां किराये पर 6 महीने से रह रहे थे। जाहिर है अपहरणकर्ताओं के नापाक हौंसलों पर पानी फेरते हुए दिल्ली पुलिस ने जिस तरह से 5 साल के रिहानश को उसके परिवार को वापस सौंपा है ये पुलिस के लिए बडी कामयाबी है।

Related posts

पहली बार लालू के बिना मना राजद का स्थापना दिवस

Breaking News

हाथरस गैंगरेप : जिलाधिकारी की अभद्रता पर CM योगी ने मांगा जवाब

Trinath Mishra

गुजरात चुनाव से पहले बीजेपी को झटका , सेबी ने रुपाणी की कंपनी पर लगाया जुर्माना

Breaking News