corona 2 महाराष्ट्र में 'कोरोना का काउंटडाउन' शुरू: पुणे में 14 मार्च तक नाइट कर्फ्यू, स्कूल-कॉलेज और कोचिंग बंद

मुंबई: महाराष्ट्र में एक बार फिर कोरोना संक्रमण अपना कहर बरपा रहा है। महाराष्ट्र में अब आलम यह है कि कोरोना के मरीजों की संख्या में बड़ी तेजी से इजाफा हो रहा है। इसी क्रम में महाराष्ट्र सरकार ने सख्त रूख अपनाते हुए पुणे में नाइट कर्फ्यू 14 मार्च तक बढ़ाने का आदेश दिया है। साथ ही स्कूल, कॉलेज, निजी कोचिंग संस्थानों को 14 मार्च तक बंद कर दिया गया है।

corona1 महाराष्ट्र में 'कोरोना का काउंटडाउन' शुरू: पुणे में 14 मार्च तक नाइट कर्फ्यू, स्कूल-कॉलेज और कोचिंग बंद

पुणे में नाइट कर्फ्यू बढ़ाई गई

गौरतलब है कि पुणे में कोरोना के मामलों में लगातार हो रहे बढ़ोत्तरी पर कंट्रोल करने के लिए बीते 21 फरवरी को 28 फरवरी तक के लिए नाइट कर्फ्यू और दूसरी पाबंदिया लागू की थी, जिन्हें अब 14 मार्च तक बढ़ाया गया है। वहीं पुणे के मेयर मुरलीधर मोहोल ने रविवार को जानकारी देते हुए कहा कि रात को 11 बजे से सुबह 6 बजे तक सिर्फ जरूरी सेवाओं वाले वाहनों को ही आने जाने की इजाजत होगी। सिटी में रेस्तरां को भी 11 बजे ही बंद किया जा रहा है, पहले 1 बजे तक रेस्तरां खोले जा सकते थे। इसके अलावा शादियों में 50 से ज्यादा लोगों के पहुंचने पर जुर्माना लगाया जाएगा।

corona3 महाराष्ट्र में 'कोरोना का काउंटडाउन' शुरू: पुणे में 14 मार्च तक नाइट कर्फ्यू, स्कूल-कॉलेज और कोचिंग बंद

औरंगाबाद में ट्यूशन क्लॉसेस पूरी तरह बंद

पुणे की तर्ज पर महाराष्ट्र के औरंगाबाद में भी नगर निगम ने कक्षा 5 से 9 तक और 11वीं की ट्यूशन कक्षाओं को बंद कर दिया है। ये प्रतिबंध 15 मार्च तक लागू रहेगा। इसके अलावा कक्षा 11 के ट्यूशन भी बंद कर दिए गए हैं। बोर्ड परीक्षा होने की वजह से कक्षा 10 के छात्रों को राहत दी गई है। कमिश्नर आस्तिक कुमार पांडेय ने छात्रों के जमावड़े को रोकने के लिए ये आदेश जारी किया है। छात्रों को ऑनलाइन क्लास का विकल्प दिया गया है। बता दें कि शुक्रवार को औरंगाबाद में कोरोना के 247 नए पॉजिटिव केस सामने आए थे।

महाराष्ट्र में इक्कीस लाख हुई कोरोना मरीजों की संख्या

बता दें पुणे और महाराष्ट्र के दूसरे शहरों में बीते कुछ दिनों में कोरोना के मामलों में काफी उछाल देखा गया है, जिसके बाद सख्तियां बढ़ाई गई हैं। महाराष्ट्र में अब तक 21,46,777 लोग कोरोना वायरस की चपेट में आ चुके हैं, जिनमें से 52,092 लोगों की मौत हो गई है। वहीं 73,734 लोगों का अस्पताल में इलाज चल रहा है, जबकि 20,20,951 लोग कोरोना को मात देने में सफल रहे हैं।

 

किसानों के लिए बड़ी खुशखबरी, गोरखपुर में बनकर तैयार खाद कारखाना

Previous article

इंडिया बुक ऑफ रिकॉर्ड में दर्ज हुआ 6 साल के बच्चे का नाम,रंग लाई लॉकडाउन की मेहनत

Next article

You may also like

Comments

Comments are closed.

More in featured