September 28, 2021 9:21 pm
featured यूपी

सीएम योगी के यूपी में भ्रष्‍टाचार पर माफी नहीं… सभी को सजा, पढ़िए पूरी खबर

लखनऊ: यह जातियां ओबीसी में होगी शामिल, देंखे लिस्ट

लखनऊ: उत्‍तर प्रदेश में भ्रष्‍टाचार पर जीरो टॉलरेंस की नीति लेकर आई योगी सरकार ने किसी को माफी नहीं दी बल्कि सभी को सजा दी है। प्रदेश में भ्रष्टाचार को लेकर बड़े से लेकर छोटे अधिकारियों व कर्मचारियों तक पर कार्रवाई की गई है।

50 पीसीएस अधिकारी भी शिकंजे में  

राज्‍य में भ्रष्‍टाचार मामले में करीब 50 पीसीएस अधिकारी शिकंजे में आए तो वहीं, 2100 से ज्यादा अधिकारी और कर्मचारी सलाखों के पीछे पहुंचे। इसमें घूस लेते रंगे हाथ गिरफ्तारी के 43 फीसदी मामलों में पैरवी कर सजा भी दिलाई गई।

280 रिश्‍वतखोर सलाखों के पीछे

भ्रष्‍टाचार मामले में एंटी करप्शन ब्यूरो ने 280 लोगों को सलाखों के पीछे भेजा और 45 लाख नगद रुपए भी बरामद किए। इसमें रिश्वत लेते रंगे हाथ 35 पुलिसकर्मी और अन्य विभागों के करीब 245 कर्मचारी गिरफ्तार किए।

222 पुलिसकर्मियों पर भी कार्यवाही  

एंटी करप्शन ने साढ़े चार साल में करीब 660 मामले निस्तारित किए। इसमें पुलिस विभाग के 222, दूसरे विभागों के 515 और 50 आम लोगों पर भी भ्रष्टाचार को लेकर कार्यवाही हुई। पुलिस के 91 अधिकारियों और कर्मचारियों के खिलाफ चार्जशीट, 57 के खिलाफ मुकदमे, 38 के खिलाफ विभागीय कार्यवाही और 28 के खिलाफ जांच हो रही है। इसके अलावा भ्रष्टाचार के मामलों में 30 सरकारी अधिकारियों को सश्रम कारावास और अर्थदंड की सजा भी दी गई है।

Related posts

अगस्ता वेस्टलैंड : एसपी त्यागी सहित 2 लोगों की आज कोर्ट में होगी पेशी

shipra saxena

रामजन्मभूमि मामले के अहम पक्षकार को रामनगरी ने दी अंतिम विदा

piyush shukla

आम आदमी पार्टी के सांसद संजय सिंह को सुप्रीम कोर्ट से बड़ी राहत

sushil kumar