सीएम रावत ने रामलीला मैदान नरेन्द्रनगर में विकास मेला-2018 का उद्घाटन किया

देहरादून। मुख्यमंत्री ने इस अवसर पर सिंचाई विभाग की 12 करोड 16 लाख रूपये की योजनाओं का लोकार्पण तथा लोक निर्माण विभाग की 9 करोड़ 84 लाख की योजनाओं का शिलान्यास किया। लोकार्पण की गई योजनाओं में जनपद टिहरी गढ़वाल में चन्द्रभागा नदी के बायें तट पर ढ़ालवाला पुल से चन्द्रभागा पुल तक सुदृढ़िकरण एवं बाढ़ सुरक्षा कार्य शामिल है। शिलान्यास की गई योजनाओं में सेंटर ऑफ एक्सीलेंस ऑफ आर्गेनिक फॉमिंग एवं टिहरी भवन एवं विधान सभा क्षेत्र नरेन्द्रनगर में डाबरखाल भैस्यारों मोटरमार्ग का सुधारीकरण/डामरीकरण कार्य शामिल है।

स्कूली छात्र-छात्राओं द्वारा निकाली गई झांकियों का अवलोकन भी किया

बता दें कि मुख्यमंत्री ने मेले में विभिन्न विभागों द्वारा लगाये गये स्टॉलों एवं स्कूली छात्र-छात्राओं द्वारा निकाली गई झांकियों का अवलोकन भी किया। इस अवसर पर मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र ने सभी को नवरात्रों की बधाई देते हुए कहा कि पर्वतीय क्षेत्रों का विकास राज्यहित से जुड़ा है। हमारी सरकार पहाड़ी क्षेत्रों के विकास के लिये संकल्पबद्ध है। उन्होंने कहा कि हमने उत्तराखण्ड की भौगोलिक विशिष्टताओं को देश व दुनिया के सामने रखा। इस कारण दुनियाभर के निवेशक उत्तराखण्ड की ओर आकर्षित हुए है।

युवाओं के भविष्य को संवारे

उन्होंने कहा कि हमें उत्तराखण्ड के लिये ऐसी नीतियां बनानी होगी जो युवाओं के भविष्य को संवारे। हमें राज्य के युवाओं को व्यवसायी बनाना है, ताकि वे दूसरों को भी रोजगार दे सकें। हमारे प्रदेश में प्राकृतिक संसाधन प्रचुर मात्रा में है। इनका सदुपयोग कैसे हो, यह सोच विकसित करनी होगी। हमें 2025 तक प्रदेश में बदलाव लाना है। उन्होंने कहा कि हमने शिक्षा, स्वास्थ्य और तकनीकी के क्षेत्र में बेहतर प्रयास किये है।

अदवाणी बेसी मोटर मार्ग का पोखरी तक विस्तार किये

वहीं मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र ने कैबिनेट मंत्री सुबोध उनियाल के अनुरोध पर क्षेत्र के विकास से संबंधित विभिन्न घोषणाएं भी की जिनमें राजकीय महाविद्यालय नरेन्द्रनगर को पीजी कॉलेज का दर्जा दिये जाने, नरेन्द्रनगर विकासखण्ड के अन्तर्गत दैवीय आपदा से क्षतिग्रस्त ढ़ालवाला ड्रेन सड़क की मरम्मत कार्य, नरेन्द्र विकासखण्ड के तपोवन क्षेत्र में लक्ष्मण झूला के डाउन स्ट्रीम सच्चा धाम घाट(गऊ घाट) के निर्माण किये जाने, अतिरिक्त प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र गजा का प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र में उच्चीकरण, तपोवन की विभिन्न सड़कों का पुनर्निर्माण कार्य, गूलर-सालब-भगवा सेरा मोटर मार्ग का डामरीकरण किये जाने, नरेन्द्रनगर-डागर-सोनी फर्त मोटर मार्ग का डामरीकरण, गौंताचली-घंटाकरण मोटरमार्ग, द्वितीय चरण निर्माण पूरा किये जाने, अदवाणी बेसी मोटर मार्ग का पोखरी तक विस्तार किये।

सौरपानी-चमराडा देवी मोटर मार्ग का डामरीकरण किये जाने की घोषणा की

जोन, ओडांडा-पसर-डांडा मोटर मार्ग का द्वितीय चरण का कार्य पूरा किये जाने, हिडोला-मुडाला मोटर मार्ग का नव निर्माण, कारगिल शहीद जगत सिंह मोटर मार्ग को मुख्य मार्ग से जोड़ना, संसमण-कौडियाला मोटर मार्ग का अवशेष निर्माण कार्य पूरा किये जाने, सत्या डांडा-पल्या डांडा-कसमोली मोटरमार्ग का नव निर्माण किये जाने, तैला-कोटेश्वर मोटर मार्ग का डामरीकरण किये जाने एवं सौरपानी-चमराडा देवी मोटर मार्ग का डामरीकरण किये जाने की घोषणा की।

जिलाध्यक्ष भाजपा संजय नेगी आदि उपस्थित थे

कैबिनेट मंत्री सुबोध उनियाल ने कुंजापुरी मेले के इतिहास पर प्रकाश डाला तथा जनपद के विकास हेतु विभिन्न समस्याओं से मुख्यमंत्री को अवगत कराया। इस अवसर पर विधायक शक्तिलाल शाह, पूर्व विधायक ओम गोपाल रावत, ब्लॉक प्रमुख बिनीता बिष्ट, जिलाधिकारी सोनिका, एस.एस.पी. योगेन्द्र सिंह रावत, मुख्य विकास अधिकारी आशीष भटगांई, जिलाध्यक्ष भाजपा संजय नेगी आदि उपस्थित थे।