सीएम योगी ने यूपी चुनाव 2022 के लिए मंत्रियों को दिया मूल मंत्र, दो महीने यहां रहेंगे मंत्री

लखनऊ: यूपी विधान सभा चुनाव 2022 के लिए सभी पार्टियों ने तैयारी शुरू कर दी है। ऐसे में सत्ताधारी बीजेपी के लिए दोबारा चुनाव जीतने लिए एक चुनौती से कम नहीं होगा। मुख्यमंत्री योगी इस बात को बखूबी समझ रहे है। सीएम ने विधानसभा चुनाव के पहले सरकार के मंत्रियों को जून और जुलाई के महीने में अपने जनपदों में प्रवास करने के लिए निर्देश दिए है। ताकि स्थानीय लोगों की समस्या को अच्छी तरह से समझा जा सकें।

‘संपर्क और संवाद’ पर फोकस

सीएम योगी ने मंत्रियों के साथ बैठक की है। बैठक में ‘संपर्क और संवाद’ पर काम करने की सहमति बनी है। ‘संपर्क और संवाद’ के ध्येय टास्क के माध्यम से सरकार के मंत्री जमीन पर उतरेंगे। सभी मंत्री अपने जनपदों में कार्यकर्ताओं के साथ सीधा संवाद करेंगे।

सीएम योगी के इस टास्क के अनुसार ब्लॉक स्तर पर प्रवास करेंगे प्रभारी मंत्री। सीएम योगी की इस बैठक में मंत्रियों की जिम्मेदारी तय कर दी गई है।

इन मुख्य बिंदुओं पर जोर देना होगा
  • CHC, PHC का निरीक्षण करेंगे सभी मंत्री
  • 21 जून को योग दिवस पर विशेष कार्यक्रम
  • 23 जून से 6 जुलाई तक विशेष कार्यक्रम होंगे
  • 27 जून को पीएम के मन की बात सुनेंगे मंत्री

यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को हमेशा अपनी पार्टी और संगठन के लिए मेहनत करते देखा जाता है। सीएम योगी अभी दिल्ली में पीएम मोदी, गृहमंत्री अमित शाह और पार्टी अध्यक्ष जेपी नड्डा के साथ मीटिंग करके आए है।

सीएम योगी के दिल्ली से आने के बाद वह लगातार आगामी चुनावों को ध्यान में रखकर ही आगे की रणनीति बना रहे है। सीएम योगी ने मंत्रियों को बैठक करके यह निर्देश दे दिया है कि सभी मंत्री योग दिवस से यानि की 21 जून से युद्ध स्तर पर लोगों की बातें सुनेंगे और चुनाव में आने वाली समस्याओं को समझने की पूरी कोशिश करेंगे।

लखनऊ: जब ‘चंदा चोर-गद्दी छोड़’ के नारे से गूंजा मुख्यमंत्री आवास

Previous article

कहीं आपके फोन में तो नहीं है फर्जी एंड्राइड ऐप, ऐसे लगाएं पता

Next article

You may also like

Comments

Comments are closed.

More in featured