बसपा सुप्रीमो ने जारी की लोकसभा प्रत्याशियों की लिस्ट, मुख्तार अंसारी, रितेश पांडे को दिया टिकट

बसपा सुप्रीमो ने जारी की लोकसभा प्रत्याशियों की लिस्ट, मुख्तार अंसारी, रितेश पांडे को दिया टिकट

लखनऊ। बहुजन समाज पार्टी (बसपा) ने रविवार को लोकसभा चुनाव में उत्तर प्रदेश की 16 सीटों पर अपने प्रत्याशियों के नाम घोषित कर दिए हैं। बसपा ने गाजीपुर से केंद्रीय रेल राज्य मंत्री मनोज सिन्हा के खिलाफ बाहुबली नेता मुख्तार अंसारी के भाई अफजल अंसारी को चुनावी मैदान में उतारा है। वहीं पूर्वांचल के बाहुबली पूर्व मंत्री पंडित हरिशंकर तिवारी के पुत्र भीष्म शंकर उर्फ कुशल तिवारी को संत कबीर नगर से टिकट दिया गया है।
बसपा ने प्रतापगढ़ से अशोक त्रिपाठी, अम्बेडकर नगर से रितेश पांडेय, श्रावस्ती से रामशिरोमणि वर्मा, डुमरियागं से आफताब आलम, बस्ती से रामप्रसाद चौधरी, देवरिया से विनोद कुमार जयसवाल, बांसगांव से सदल प्रसाद, लालगंज से संगीता, घोसी से अतुल राय, सलेमपुर से आर एस कुशवाहा, जौनपुर से श्याम सिंह यादव, मछलीशहर से टी राम, भदोही से रंगनाथ मिश्रा और सुल्तानपुर से केंद्रीय मंत्री मेनका गांधी के खिलाफ चन्द्रभद्र सिंह को चुनावी मैदान में उतारा है। गौरतलब है कि इस बार बसपा, सपा और रालोद गठबंधन में चुनाव लड़ रही है, जिसमें बसपा 38 सीटों पर चुनाव लड़ रही है। इससे पहले बसपा अपने 22 प्रत्याशी घोषित कर चुकी है।
इससे पहले शुक्रवार को पार्टी ने पांच उम्मीदवारों के नामों का ऐलान किया था। पिछली लिस्ट में बीकानेर से भैराराम मेघवाल, चुरू से हरि सिंह चाहर, सीकर से सीतादेवी, जयपुर ग्रामीण से विरेंद्र सिंह विधूड़़ी और करौली धौलपुर से रामकुमार बैरवा को टिकट दी गई थी। इससे पहले दो सूची में पार्टी राज्य के लिए राजस्थान के लिए 11 प्रत्याशियों के नामों की घोषणा कर चुकी है। बता दें, दिसंबर 2018 में हुए राजस्थान विधानसभा चुनाव में पार्टी ने छह सीटें जीतीं और खासकर पूर्वी राजस्थान की कुछ लोकसभा सीटों पर उसका अच्छा खासा जनाधार है। 9 अप्रैल को बसपा ने एक और लिस्ट जारी की थी, इस लिस्ट में पांच उम्मीदवारों के नामों का ऐलान किया था। धौरहरा सीट से अरसद अहमद सिद्दीकी, सीतापुर से नकुल दुबे, मोहनलालगंज (सु) से सीएल वर्मा, फतेहपुर से सुखदेव प्रसाद तथा कैसरगंज से चंद्रदेव राम यादव उम्मीदवार बनाया गया।