October 20, 2021 10:14 pm
featured यूपी

फतेहपुर में भाजपा-सपा प्रत्‍याशियों ने भरा नामांकन, होगी कांटे की टक्‍कर

फतेहपुर में भाजपा-सपा प्रत्‍याशियों ने भरा नामांकन, होगी कांटे की टक्‍कर

फतेहपुर: फतेहपुर जिला पंचायत अध्यक्ष पद के लिए शनिवार को भारी सुरक्षा के बीच नामांकन दाखिल कराया गया। इसमें भारतीय जनता पार्टी के समर्थित प्रत्याशी अभय प्रताप सिंह और समाजवादी पार्टी की समर्थित प्रत्‍याशी संगीता राज पासवान ने जिलाधिकारी कार्यालय में नामांकन किया।

सहायक निर्वाचन अधिकारी विनीता सिंह ने बताया कि, अभय प्रताप सिंह ने तीन सेट और संगीता राज ने दो सेट में पर्चा दाखिल किया था। दोनों प्रत्याशियों के नामांकन पत्र सही पाए गए हैं। अब नाम वापसी 29 जून और मतदान, मतगणना और विजेता की घोषणा तीन जुलाई को होगी।

सपा-भाजपा में कांटे की टक्‍कर

46 सदस्यों वाली जिला पंचायत सीट के लिए चुने जाने वाले जिला पंचायत अध्यक्ष पद के लिए इस बार का चुनाव रोचक और संघर्षपूर्ण हो सकता है। ऐसा इसलिए क्योंकि एक ओर जहां भाजपा ने पिछली बार सपा सरकार होने के बावजूद भी जीत का डंका बजाया था तो वहीं, इस बार बीजेपी की सरकार होने की वजह से उसे अपनी जीत आसान दिखाई दे रही है।

वहीं, समाजवादी पार्टी को अपनी पिछली हार बहुत अच्छे से याद है। ऐसे में वह जिला पंचायत अध्यक्ष पद अपने पाले में लाकर बीजेपी से बदला लेने के मूड में हैं। सपा ने महिला प्रत्याशी संगीता राज पासवान को मैदान में उतार कर दोहरी चाल चली है। पार्टी ने जहां एक ओर खुद को महिला सशक्तिकरण का पक्षधर दिखाया है तो वहीं, दूसरी ओर अनुसूचित जाति से प्रत्याशी बनाते हुए दलित कार्ड भी खेला है।

दोनों पार्टियों ने झोंकी ताकत

सपा ने बीते दिनों निर्दलीय और अन्य पार्टियों के समर्थन से जीते प्रत्याशियों को एकजुट कर अपनी ताकत दिखाई था। जबकि बीजेपी अपने 10 जीते हुए प्रत्याशियों के साथ बाकी अन्य जीते हुए सदस्यों से लगातार संपर्क बनाए हुए है। ऐसे में जिला पंचायत अध्यक्ष सीट के लिए दोनों ही पार्टियों ने अपनी-अपनी पूरी ताकत झोंक दी है।

सुरक्षा रही सख्त

जिला पंचायत अध्यक्ष पद के नामांकन में किसी भी प्रकार से कानून व्यवस्था ना बिगड़ने पाए इसके लिए व्यापक इंतजाम किए गए थे। इसमें जिलाधिकारी कार्यालय परिसर के आसपास से लेकर नामांकन कक्ष तक बैरिकेडिंग की गई थी। इसके साथ ही नामांकन कक्ष के अंदर और बाहर भारी पुलिस बल तैनात था। नामांकन के दौरान पुलिस अधीक्षक सतपाल आंतिल, उप जिलाधिकारी प्रमोद झा और अन्य प्रशासनिक अधिकारी परिसर का निरीक्षण करते रहे।

Related posts

सुप्रीम कोर्ट पहुंचे तेज बहादुर यादव, वाराणसी से नामांकन रद्द होने के बाद उठाया कदम

bharatkhabar

शिया वक्फ बोर्ड के अध्यक्ष वसीम रिजवी के खिलाफ इराक से जारी हुआ फतवा

mahesh yadav

लखनऊ में चलेगा विशेष सफाई अभियान, जागरूकता पर भी जोर

Aditya Mishra