दो महीने बाद देश में कोरोना के सबसे कम आकड़े दर्ज हुए,संक्रमितों की मौत बढ़ा रही चिंता

कोरोना अभी खत्म भी नहीं हुआ और लोगों ने लापरवाही की हद कर दी है। बिहार में लोगों की लापरवाही और कोरोना नियमों की उड़ती धज्जियां संक्रमण दर को फिर से बढ़ाने का काम कर रही है।

लापरवाह हुए लोग, बेलगाम होगा कोरोना!

कोरोना का खतरा एक बार फिर मंडराने लगा है। एक बार फिर कोरोना संक्रमण की रफ्तार बढ़ने लगी है। लेकिन उसके बाद भी लोग लापरवाही बरत रहे हैं। बिहार में कोरोना फिर से ताकतवर हो रहा है। लोग कोरोना नियमों की धज्जियां उड़ा रहे हैं और कोरोना को नदरअंदाज कर रहे हैं। जिसका नतीजा यह है कि प्रदेश में 4 दिन में कोरोना के नए केस 73 फीसदी तक बढ़ गए हैं। रिकवरी रेट जस का तस बना हुआ है। दूसरी लहर के कहर से अभी प्रदेश उभरा भी नहीं है कि लोगों की लापरवाही तीसरी लहर को बुलावा दे रही है। 12 जुलाई को बिहार में जहां कोरोना के 72 नए केस मिले थे वहीं 15 जुलाई को 125 लोग कोरोना संक्रमित पाए गए। 4 दिन में संक्रमितों की संख्या में हुई बढ़ोतरी से यह साफ है कि कोरोना एक बार फिर ताकतवर हो रहा है।

4 दिन में इस स्पीड से बढ़े केस

बिहार में 12 जुलाई को कोरोना के 72 नए मामले सामने आए थे। 13 जुलाई को संक्रमितों का आंकड़ा बढ़कर 102 तक पहुंच गया। 14 जुलाई को फिर नए मरीजों की संख्या में बढ़ोतरी हुई और 24 घंटे में 113 लोग कोरोना की जद में आए। 15 जुलाई को कोरोना ने 125 लोगों को अपनी चपेट में लिया। यानी 4 दिन में 412 नए केस बढ़ गए जो यह बताने के लिए काफी है कि प्रदेश में कोरोना की स्पीड क्या है। अगर अभी भी लोगों की लापरवाही कम नहीं हुई तो स्थिति फिर से विकराल हो सकती है।

रिकवरी रेट जस का तस, एक्टिव केस बढ़े

बिहार में कोरोना के 796 लोगों का इलाज चल रहा है। प्रदेश में 12 जुलाई को 72 नए केस मिलने के बाद एक्टिव मरीजों की संख्या 788 हो गई थी। इसके बाद कोरोना मरीजों के संक्रमित होने और ठीक होने का क्रम ऐसे ही जारी रहा। 15 जुलाई को कोरोना के 125 नए केस आए तो 110 लोग कोरोना को मात देकर ठीक भी हुए हैं। लेकिन इसके बाद भी एक्टिव केस कम नहीं हुए और रिकवरी रेट जस का तस ही बना हुआ है। एक्टिव केस तभी कम होंगे जब कोरोना से संक्रमित होने वाले मरीजों की संख्या घटेगी। पुराने मरीज ठीक होते जाएं और नए केस कम आए तो रिकवरी रेट बढ़ सकता है। जिससे कोरोना पर काबू पाने में आसानी मिलेगी।

मौत के आंकड़ों में भी हो रही बढ़ोतरी

कोरोना मरीजों की संख्या बढ़ने के साथ-साथ मौत का आंकड़ा भी बढ़ रहा है। पिछले 24 घंटे में प्रदेश में 4 मरीजों की कोरोना से मौत हुई। बिहार में अब तक कोरोना से 9 हजार 625 लोगों की मौत हो चुकी है। राजधानी पटना में 2 हजार 329 लोग अब तक दम तोड़ चुके हैं। पटना में कोरोना संक्रमितों की संख्या में भी अधिक बढ़ोतरी हो रही है। साथ ही एक्टिव केस भी बढ़ रहे हैं। बहरहाल. ऐसी परिस्थिति में अब जरूरी है कि लोग कोरोना प्रोटोकॉल का पालन करें ताकी कोरोना फिर से कहर ना ढाए।

Terrorist Attack In Lucknow: ट्रैवल एजेंसियों के संपर्क में थे दोनों संदिग्ध, पढ़िए पूरी खबर

Previous article

अफगानिस्तान: कवरेज के दौरान भारतीय पत्रकार दानिश सिद्दीकी की हत्या, देखें वीडियो

Next article

You may also like

Comments

Comments are closed.

More in featured