January 23, 2022 4:53 am
Breaking News featured खेल

स्टिंग में दावा-भारत के टैस्ट मैचों में हुई थी फिक्सिंग, 5 खिलाडी भी शामिल

ENG AUS स्टिंग में दावा-भारत के टैस्ट मैचों में हुई थी फिक्सिंग, 5 खिलाडी भी शामिल

भारत में हुए टैस्ट मैचों में स्पॉट फिक्सिंग को लेकर ऑस्ट्रेलिया के 2 और इंग्लैंड के 3 खिलाडियों पर  आरोप लगा है। पिछले साल टेस्ट मैच के लिए भारत दौरे पर आए ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड के खिलाड़ियों पर मैच फिक्सिंग का आरोप लगा है। लेकिन स्पॉट फिक्सिंग को लेकर दोनों देशों के क्रिकेट बोर्ड ने अभी तक कोई कर्रवाई नहीं की है। दोनों देशों के क्रिकेट बोर्ड ने कर्रवाई करने से पहले आईसीसी की मौजूदा जांच पूरी होने तक का इंतजार करने का फैसला किया है।

 

ENG AUS स्टिंग में दावा-भारत के टैस्ट मैचों में हुई थी फिक्सिंग, 5 खिलाडी भी शामिल

 

गौरतलब है कि टेस्ट मैचों में स्पॉट फिक्सिंग का खुलासा ‘अल जजीरा चैनल’ के स्टिंग ऑपरेशन से हुआ। जिन मैचों में फिक्सिंग को लेकर सवाल उठाए जा रहे हैं। वे भारत और श्रीलंका के बीच  गाले में 26 से 29 जुलाई 2017 तक हुआ टेस्ट, भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच रांची में 16 से 20 मार्च 2017 तक हुआ टेस्ट, भारत व इंग्लैंड के बीच चेन्नई में 20 दिसंबर 2016 तक हुआ टेस्ट शामिल हैं। गाले और चेन्नई में हुए टेस्ट मैच में भारत की जीत हुई। जबकि रांची मे हुए मैच में बराबरी का मुकाबला रहा।

 

जानिए: कैसे एक ऑवर से बदल गई चेन्नई सुपरकिंग्स की किस्मत तीसरी बार बनी IPL चैंपियन

 

आरोप है कि भारत बनाम श्रीलंका मैच में पिच पर बदलाव करने की आशंका जताई गई है, और अन्य दो मैचों में स्पॉट फिक्सिंग में इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया के क्रिकेटरों के नाम सामने आए हैं। लेकिन किसी भी भारतीय क्रिकेटर का नाम इस प्रकरण में शामिल नही है। टीवी चैनल की रिपोर्ट पर प्रतिक्रिया देते हुए बीसीसीआई ने कहा है कि वह भ्रष्टाचार रोधी इकाई के साथ काम कर रहा है। बीसीसीआई ने अपने बयान में कहा कि ऐसी कोई भी गतिविधि या काम जिससे खेल की ईमानदारी,प्रतिष्ठा ,गरिमा और विश्वसनीयता को नुकसान पहुंचे उसमें बीसीसीआई का रवैया शून्य सहिष्णुता का है। टीवी चैनल के कथित आरोपों पर बीसीसीआई की भ्रष्टाचार रोधी इकाई आईसीसी की भ्रष्टाचार रोधी इकाई के साथ काम कर रही है।

 

 

बता दें कि भारत का मैच फिक्सिंग के प्रकरण में संबंध मुंबई के पूर्व क्रिकेटर रोबिन मौरिस से है। जिन पर कथित तौर पर मैच फिक्सिंग के आरोप हैं। बीसीसीआई ने प्रथम श्रेणी के 42 मैच खेलने वाले मौरिस की पेंशन रोकने को लेकर कहा कि आईसीसी का फैसला आने पर ही इस पर कदम उठाया जएगा। बीसीसीआई के सीनियर ऑफिसर ने कहा कि आईसीसी ने जांच शुरू कर दी है। यदि आईसीसी ने मौरिस को दोषी ठहराया तो बीसीसीआई जरूर कर्रवाई करेगा। उन्होंने कहा कि 51 लिस्ट ए मैच में खेलने वाले मौरिस फिलहाल बीसीसीआई की किसी परियोजना से जुड़े हैं या नही इसके बारे में हमें अपनी भ्रष्टाचार रोधी इकाई की जानकारी की जरूरत है कि मौरिस का नाम संदिग्धों की सूची में शामिल है या नही। दूसरी बात बीसीसीआई या किसी राज्य इकाई की परियोजनाओं से जुड़ हैं। जिसे हटाने की जरूरत है। एक खास बात है यह है कि जो घरेलू क्रिकेटरों के लिए बीसीसीआई 225000 रू (कटौती के बाद) की पेंशन देती है। दोषी पाए जाने पर बीसीसीआई को उसे हटाने अधिकार है। मौरिस ने लगे आरोपों को षडयंत्र बताते हुए सिरे से खरिज कर दिया है। हालांकि इसके बाद उन्होंने अपना मोबाइल और फेसबुक अकाउंट बंद कर लिया है।

 

 

क्रिकेट बोर्ड ऑफ आस्ट्रेलिया ने कहा कि कर्रवाई करने से पहले उन्हें अधिक जानकारी की जरूरत है। हमें अभी तक कोई भी विशवसनीय फुटेज नही मिली है। जिसमें किसी क्रिकेटर की इस मामले में संलिप्तता सिद्ध हो। हमारे खिलाड़ियों की स्थिित हमेशा विशवसनीय रही है।

 

ऑस्ट्रेलिया ने अल जजीरा टीवी से अपील की है कि वह विश्वसनीय फुटेज प्राप्त कराए। इंग्लैंड के क्रिकेट बोर्ड ने भी आरोपों को नकारते हुए कहा कि हमारे पस ऐसा कुछ भी नही है । जिससे किसी खिलाड़ी पर संदेह किया जाए। हमें जो भी सूचना दी गयी है उस पर सभी खिलाड़ियों से बात की है। जिन्होंने आरोपों को नकार दिया है।

 

इंग्लैंड एवं वेल्स क्रिकेट बोर्ड के मुख्य कार्यकारी अधिकारी टाम हैरिसन ने निराशा जताते हुए कहा है कि टीवी चैनल हमारा पर्याप्त सहयोग नहीं कर रहा है। उन्होंने कहा न तो इसीबी और न ही आईसीबी के पास विश्वसनीय सबूत है। उनसे लगातार अनुरोध किया कि कोई भी साक्ष्य या असंपादित सामग्री आईसीसी के साथ साझा की जाए जिससे कि वे पूर्ण जांच कर सकें। अन्य बोर्ड सदस्यों की तरह हम निराश हैं कि अल जजीरा ने गंभीर आरोप लगाए हैं। इसके बावजूद भी सहयोग नहीं कर रहा और जिम्मेदारी नहीं दिखा रहा डाक्यूमेंट्री में मैच फिक्सिंग के आरोपी मौरिस को गाले के क्यूरेटर थरंगा इंडिका को अंडरकवर रिपोर्टर से मिलवाते हुए दिखाया गया है, और वह फिक्सरों के अनुसार पिचों को बदलने का दावा करते दिख रहे हैं।

Related posts

सरकार ने नए साल के मौके पर दिया गैर सब्सिडी वाले एलपीजी सिलेंडर वालों को तोहफा, इतने रूपये हुआ सस्ता

Rani Naqvi

मुंबई में आज से शुरू धारा 144 लागू, पुलिस ने नए साल को लेकर लगाई रोक

Rahul

रामविलास पासवान ने कहा, ‘पीएम SC/ST कानून पर अध्यादेश लाने को सहमत’

rituraj