WhatsApp Image 2021 05 17 at 5.52.40 PM दिवंगत एम्बुलेंस कर्मियों के परिजनों को दी 5-5 लाख की सहायता राशि
परिजन को सहायता राशि का चेक सौंपते जीवीके ईएमआरआई के वाइस प्रेसीडेंट टीवीएसके रेड्डी
– ड्यूटी के दौरान जान गंवाने वाले कर्मियों के परिजनों को वाइस प्रेसीडेंट टीवीएसके रेड्डी ने सौंपे चेक 
लखनऊ। उत्तर प्रदेश में 108, एएलएस व 102 एम्बुलेंस सेवा प्रदाता संस्था जीवीके ईएमआरआई ने अपने पांच दिवंगत कर्मचारियों के परिजनों को 25 लाख रुपये की सहायता राशि दी। इन सभी कर्मचारियों की सेवाकाल के दौरान मृत्यु हो गई थी।
इनमें अमिताभ मिश्र, प्रेम शंकर यादव, अंकुर कुमार, शिवराज स‍िंह एवं जयवीर के परिजनों को पांच-पांच लाख रुपये की आर्थिक सहायता राशि दी गई।
WhatsApp Image 2021 05 17 at 5.52.41 PM 1 दिवंगत एम्बुलेंस कर्मियों के परिजनों को दी 5-5 लाख की सहायता राशि

परिजन को सहायता राशि का चेक सौंपते जीवीके ईएमआरआई के वाइस प्रेसीडेंट टीवीएसके रेड्डी

इस संबंध में जीवीके ईएमआरआई, यूपी के एचआर हेड लिंगराज दास ने बताया कि संस्था के वाइस प्रेसीडेंट टीवीएसके रेड्डी ने सोमवार को दिवंगत कर्मचारियों के परिजनों को सहायता राशि के चेक सौंपे हैं।
उन्होंने दिवंगत कर्मचारियों के परिजनों के प्रति गहरी संवेदना व्यक्त करते हुए कहा कि एम्बुलेंस कर्मचारी दिन-रात युद्धस्तर पर लोगों को सेवाएं दे रहे हैं। सेवाप्रदाता संस्‍था कर्मचारियों को हरसंभव सुविधाएं उपलब्‍ध कराने के लिए प्रतिबद्ध है।
WhatsApp Image 2021 05 17 at 5.52.41 PM दिवंगत एम्बुलेंस कर्मियों के परिजनों को दी 5-5 लाख की सहायता राशि

परिजन को सहायता राशि का चेक सौंपते जीवीके ईएमआरआई के वाइस प्रेसीडेंट टीवीएसके रेड्डी

लिंगराज दास ने बताया कि प्रेमशंकर यादव महाराजगंज,  शिवराज स‍िंह फर्रूखाबाद और जयवीर महोबा जनपद में पायलट के रूप में कार्यरत थे।
WhatsApp Image 2021 05 17 at 5.52.42 PM दिवंगत एम्बुलेंस कर्मियों के परिजनों को दी 5-5 लाख की सहायता राशि

परिजन को सहायता राशि का चेक सौंपते जीवीके ईएमआरआई के वाइस प्रेसीडेंट टीवीएसके रेड्डी

जबकि अंकुर कुमार ईएमटी के रूप में जनपद जालौन और अमिताभ मिश्र इमरजेंसी मेडिकल ऑफिसर के रूप में लखनऊ में कार्यरत थे। ड्यूटी के दौरान विभिन्‍न कारणों से इनकी मृत्‍यु हो गई थी।

UP: ताजमहल सहित 141 स्मारक 31 मई तक बंद, जान लीजिए वजह

Previous article

मानसून के पहले महापौर का बड़ा निर्णय

Next article

You may also like

Comments

Comments are closed.