September 28, 2021 6:42 am
featured मध्यप्रदेश

इंदौर में कोरोना महामारी की जद में आए 41 वर्षीय पुलिस निरीक्षण ने तोड़ा दम

इंदौर इंदौर में कोरोना महामारी की जद में आए 41 वर्षीय पुलिस निरीक्षण ने तोड़ा दम

नई दिल्ली। देश में कोरोना वायरस संक्रमण से सबसे ज्यादा प्रभावित शहरों में शामिल इंदौर में इस महामारी की जद में आए 41 वर्षीय पुलिस निरीक्षक ने शनिवार देर रात दम तोड़ दिया। अधिकारियों के मुताबिक, यह प्रदेश में कोरोनावायरस से किसी पुलिस अधिकारी की मौत का पहला मामला है। इंदौर के जूनी थाने के इंचार्ज देवेन्द्र चंद्रवंशी COVID-19 पॉजिटिव थे, लेकिन डॉक्टरों के मुताबिक, उनकी मौत Pulmonary embolism से हुई है। उनके निधन पर पुलिसकर्मियों ने बंदूक से सलामी दी। इसका वीडियो सामने आया है, जिसमें पुलिस कर्मी आसमान में फायर कर रहे हैं। इंदौर में कोरोना के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं। 

बता दें कि पुलिस अधीक्षक महेशचंद्र जैन ने रविवार को बताया, “कोविड-19 से संक्रमित होने से पहले शहर के जूनी इंदौर पुलिस थाने के प्रभारी के रूप में ड्यूटी कर रहे 41 वर्षीय निरीक्षक ने एक निजी अस्पताल में आखिरी सांस ली। वह पिछले 20 दिन से अस्पताल में भर्ती थे। जैन ने बताया, “डॉक्टरों की तमाम कोशिशों के बावजूद पुलिस निरीक्षक की जान नहीं बचाई जा सकी। उनके परिवार में पत्नी और दो बेटियां हैं। COVID-19 से निरीक्षक की मौत के बाद पुलिस महकमे में शोक की लहर है। कई लोग उन्हें COVID-19 ‘योद्धा’ बताकर सोशल मीडिया पर श्रद्धांजलि दे रहे हैं।

https://www.bharatkhabar.com/policemen-of-indore-are-shaving-their-heads-these-days/

वहीं मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कोविड-19 से जंग में अपने प्राण न्योछावर करने वाले इंस्पेक्टर स्व. देवेन्द्र कुमार के परिवार के लिए असाधारण पेंशन देने के निर्देश दिए हैं। इसके अलावा उनकी पत्नी को 50 लाख रुपये की मदद और पुलिस विभाग में नौकरी भी दी जाएगी। देवेन्द्र को अनुकरणीय सेवा के लिए मरणोपरांत विशेष सेवा पदक से भी नवाजा जाएगा।

इस बीच मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी प्रवीण जड़िया ने बताया कि जिले में कोरोना वायरस से मौत के एक अन्य मामले में 70 वर्षीय महिला ने एक निजी अस्पताल में शुक्रवार को दम तोड़ दिया। पुलिस निरीक्षक और इस महिला की मौत के साथ ही जिले में इस संक्रमण के बाद दम तोड़ने वाले मरीजों की संख्या बढ़कर 49 पर पहुंच गई है।

Related posts

कर्नाटक के लोगों को कन्नड़ भाषा सीखनी चाहिए- सीएम सिद्धारमैया

Pradeep sharma

लखनऊ: अशोक अग्रवाल ने संभाली IIA की कमान, मंत्री सुरेश खन्ना बोले- तेजी से दूर कराएंगे उद्योगों की समस्याएं

Shailendra Singh

राज्यपाल टंडन ने एमपी नगरपालिका संशोधन विधेयक को मंजूरी दी

Trinath Mishra