September 22, 2021 11:15 pm
featured यूपी

फतेहपुर: मौहारी गांव में घुसा यमुना का पानी, ड्रोन से हुई निगरानी

फतेहपुर: मौहारी गांव में घुसा यमुना का पानी, ड्रोन से हुई निगरानी

फतेहपुर: फतेहपुर जिले के बिंदकी तहसील स्थित मौहारी गांव में यमुना नदी का पानी घुसने से हड़कंप मच गया है। अधिकारियों ने यहां पर राहत-बचाव कार्य शुरू करते हुए कई निर्देश जारी किए हैं। मामले पर शनिवार को कारागार राज्य मंत्री जय कुमार जैकी, जिलाधिकारी अपूर्वा दुबे और पुलिस अधीक्षक राजेश कुमार सिंह ने मौके पर निरीक्षण करते हुए ड्रोन से निगरानी की। इसके साथ ही उप जिलाधिकारी और संबंधित अधिकारी मौजूद रहे।

गैर प्रान्तों से छोड़े जा रहे पानी का असर है कि जिले में गंगा-यमुना नदी का जलस्तर लगातार बढ़ता जा रहा है। अब तो ऐसे हालात हो गए हैं कि यमुना किनारे बसे गांवों में पानी आफत बनकर घुस रहा है। इस दौरान मौहारी गांव के प्रह्लाद और राम किशोर के घर के चारों ओर पानी ही पानी भरा था। इसके बाद भी ये दोनों अपना घर नहीं खाली कर रहे थे।

एसपी ने दी सख्‍त चेतावनी

इस पर पुलिस अधीक्षक राजेश सिंह ने सख्त चेतावनी देते हुए दोनों को तत्काल बाहर निकलने के निर्देश दिए। मामले को देखते हुए प्रह्लाद और राम किशोर घर खाली करने को तैयार हुए। इस दौरान उनके घरेलू सामान को अधिकारियों के सामने ही सुरक्षित स्थान पर पहुंचाया गया। साथ ही उन्हें और अन्य बाढ़ से प्रभावित लोगों को पूर्व माध्यमिक विद्यालय में बनाए गए राहत शिविर में शिफ्ट किया गया। यमुना में बाढ़ को देखते हुए मंत्री, डीएम, एसपी सहित पूरा प्रशासनिक अमला जमीन पर उतर गया है।

फतेहपुर: मौहारी गांव में घुसा यमुना का पानी, ड्रोन से हुई निगरानी

इसके साथ ही राहत बचाव कार्य भी शुरू है। इसके लिए गंगौली और आस-पास के स्कूलों में अस्थायी बेड लगाए गए हैं। अधिकारी लगातार ग्रामीणों से वार्ता करते हुए राहत शिविर में रहने को भेज रहे हैं। यहां पर रहने, भजन, पेयजल और शौचालय आदि की समुचित व्यवस्था है। राहत शिविर में जिलाधिकारी अपूर्वा दुबे ने बिंदकी एसडीएम को सभी आवश्यक आपूर्ति करने के निर्देश दिए हैं।

ड्रोन से निगरानी

बाढ़ प्रभावित क्षेत्र में मंत्री और जिलाधिकारी, पुलिस अधीक्षक में ड्रोन कैमरे से निगरानी की। इस दौरान पूरे क्षेत्र का हवाई सर्वेक्षण करते हुए बाढ़ की स्थिति को देखा। साथ ही जहां पर पानी ज्यादा दिखा वहां पर तत्काल लोगों को निकाला गया और उन्हें सुरक्षित स्थानों पर भेजा गया।

भीगते रहे अधिकारी, पानी में घुसकर हुआ निरीक्षण

जिस समय अधिकारी मौहारी मजरे का निरीक्षण पहुंचे उसके कुछ ही देर में बारिश होनी शुरू हो गयी। ऐसे में अधिकारियों ने भीगते हुए न केवल निरीक्षण किया बल्कि पानी के अंदर घुसकर लोगों को बाहर निकलवाया। यह देख गांव वाले भी अधिकारियों से काफी प्रभावित दिखे और पूरा सहयोग भी किया।

फतेहपुर: मौहारी गांव में घुसा यमुना का पानी, ड्रोन से हुई निगरानी

Related posts

खत्म हो सकती है ब्रिटिश काल की परंपरा, जनवरी में आ सकता है बजट

bharatkhabar

इंग्लैड के कप्तान जो रूट, विराट कोहली की तरह बेहतरीन बल्लेबाज नहीं हैं- माइक ब्रेयरली

mahesh yadav

जो हम कहें वही ठीक है, सवाल पूछोगे तो पीटे जाओगे

Pradeep Tiwari