indian navy आज है INDIAN NAVY DAY, जानिये कैसे इतिहास में दर्ज हुआ ये दिन

आज 4 दिसंबर है और हर साल 4 दिसंबर के दिन देश में नौसेना दिवस मनाया जाता है. इस दिन इंडियन नेवी के जवानों को और उनकी बहादुरी को याद किया जाता है. आज इंडियन नेवी अपना 49वां नेवी डे या नौसेना दिवस मना रही है.

इस मौके पर उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह और रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने देश के जवानों को नौसेना दिवस की बधाई दी और जवानों को सलाम किया.

पीएम मोदी ने देश की नौसेना को बधाई देते हुए लिखा-
नौसेना दिवस हमारे सभी वीरतापूर्ण नौसेना कर्मियों और उनके परिवारों को बधाई. भारतीय नौसेना निडर होकर हमारे तटों की रक्षा करती है और जरूरत के समय मानवीय सहायता भी प्रदान करती है. हम सदियों से भारत की समृद्ध समुद्री परंपरा को भी याद करते हैं.

गृह मंत्री अमित शाह ने भी नौसेना के साहस और जज्बे को सलाम किया. अमित शाह ने लिखा-
नौसेना दिवस पर मैं भारतीय नौसेना के अपने सभी साहसी कामकों और उनके परिवारों को हार्दिक बधाई देता हूं.
भारत को हमारी समुद्री सीमाओं की रक्षा करने और आपदाओं के दौरान राष्ट्र की सेवा करने में उनकी अटूट प्रतिबद्धता के लिए हमारे विकट नीले जल बल पर गर्व है.

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने भी नौसेना दिवस पर बधाई देते हुए लिखा-
#indiannavyday2020 के अवसर पर इस उत्कृष्ट बल के सभी कर्मियों को मेरी शुभकामनाएं और शुभकामनाएं. @indiannavy समुद्री सुरक्षा सुनिश्चित कर हमारे समुद्रों को सुरक्षित रखने में सबसे आगे है. मैं उनके पराक्रम, साहस और व्यावसायिकता को सलाम करता हूं.

क्यों मनाया जाता है नौसेना दिवस?
ये बात साल 1971 की है, जब भारत और पाकिस्तान के बीच युद्ध हुआ था. आज ही के दिन यानि 4 दिसंबर 1971 को भारत और पाकिस्तान के युद्धा के दौरान भारतीय नौसेना ने पाक के कराची बंदरगाह को तबाह कर दिया था. इस ऑपरेशन को ‘ऑपरेशन ट्राइडेंट’ का नाम दिया गया. भारत की ओर से किया गया हमला इतना जबरदस्त था कि पाकिस्तानी नौसेना के कराची बंदरगाह बुरी तरह से तबाह हो गया. बताया जाता है कि इसमें लगी आग करीब 7 दिन तक जलती रही थी. उसी जीत को हर साल याद करते हुए नौसान जश्न मनाती है और जश्न के रूप में आज के दिन नौसेना दिवस मनाया जाता है.

आज से उत्तराखंड दौरे पर BJP के राष्ट्रीय अध्यक्ष, जेपी नड्डा के स्वागत के लिये भव्य तैयारियां

Previous article

सरकार ने किसानों से बातचीत के दौरान दिए कृषि कानून में बदलाव के संकेत, MSP को भी पहनाया जाएगा क़ानूनी जामा

Next article

You may also like

Comments

Comments are closed.