September 21, 2021 3:28 pm
featured छत्तीसगढ़

फैक्ट्री मालिकों ने काम से निकाला तो 90 मजदूर पैदल ही घर जाने के लिए निकल पड़े

बिलासपुर फैक्ट्री मालिकों ने काम से निकाला तो 90 मजदूर पैदल ही घर जाने के लिए निकल पड़े

बिलासपुर। कोरोना संक्रमण में हुए लॉकडाउन के दौरान 90 मजदूर पैदल ही घर जाने के लिए निकल पड़े हैं। इन मजदूरों को रायपुर की फैक्ट्री मालिकाें ने काम से निकाल दिया है। इन निकाले गए लोगों में एक मजदूर अपनी 8 माह की गर्भवती पत्नी और 3 साल के बच्चे को पैदल लेकर अनूपपुर के लिए निकला है। अन्य मजदूरों को पलामू झारखंड जाना है। यह सभी रायपुर के उरला स्थित नाकोड़ा टीएमटी व बालाजी राधे टीएमटी सरिया कंपनी में काम करते थे। 

बता दें कि रायपुर समेत बड़े शहरों से राेजाना सैकड़ों मजदूर अपने घरों को लौट रहे हैं। कई मजदूर रतनपुर पार करके गौरेला पेंड्रा समेत बिहार, मध्य प्रदेश जैसे प्रदेशों की ओर पैदल ही कूच कर रहे हैं। रायपुर से 14 अप्रैल को अपने बच्चों को साथ 600 किमी दूर पलामू बिहार जाने पैदल ही निकल पड़े हैं। पोड़ी गांव पहुंचे इन मजदूरों को तीन मेडिकल किट, मास्क, भोजन देने के बाद ट्रक से पेंड्रा भेजा गया है। 

छत्तीसगढ़ के कोरबा में तीन और मरीज करोना पॉजिटिव, कुल मामलों की संख्या 36 

 

गर्भवती पत्नी के साथ 150 किमी पैदल चलकर पहुंचा रतनपुर

ओमप्रकाश अपनी 8 माह की गर्भवती पत्नी और 3 साल के बेटे को कांधे पर 13 अन्य साथियों के साथ 4 दिन में 150 किमी की पदयात्रा कर रात 8 बजे रतनपुर पहुंचा। वो मध्यप्रदेश के अनूपपुर स्थित अपने गृहग्राम जाने के लिए 14 अप्रैल को रायपुर से निकला है। इस बीच उन्होंने बलौदा बाजार, भाठापारा, मुंगेली और बिलासपुर जिले की सरहदों को पार किया। इस दौरान कहीं पर भी किसी प्रशासनिक अधिकारी या कर्मचारियों ने पूछताछ नहीं की।

Related posts

बदल गई पोषाहार बांटने की प्रक्रिया, जानिए क्या है नया परिवर्तन

Aditya Mishra

सीएम योगी का बड़ा निर्णय, ये दो अस्पताल करेंगे कोविड हॉस्पिटल के रूप में काम

Aditya Mishra

‘अटल जन आहार योजना’ के तहत 10 रुपए में मिलेगा खाना

Vijay Shrer