featured यूपी

यूपी विधानसभा: क्यों मचा है ‘अब्बा जान’ पर बवाल, सीएम योगी के बयान पर उमर अब्दुल्ला का पलटवार

1631503202613ec3623f0b4 यूपी विधानसभा: क्यों मचा है ‘अब्बा जान’ पर बवाल, सीएम योगी के बयान पर उमर अब्दुल्ला का पलटवार

यूपी में विधानसभा चुनाव होने जा रहें है। जिसको लेकर राजनीतिक गलियारों में हलचल होना शुरू हो गई है। इस बार मुख्यमंत्री योगी को उनके द्वारा दिए गए बयान पर घेरा जा रहा है।

मुसलमानों के अलावा बीजेपी के पास ओर कोई एजेंडा नहीं

जम्मू-कश्मीर के पूर्व सीएम और नेशनल कॉन्फ्रेंस के नेता उमर अब्दुल्ला ने कहा कि बीजेपी के पास मुसलमानों के खिलाफ सांप्रदायिकता और नफरत के अलावा कोई दूसरा एजेंडा नहीं है। उन्होंने कहा कि यहां एक सीएम हैं, जो दोबारा चुनाव जीतने के लिए दावा कर रहे हैं कि ‘मुसलमान ने हिंदुओं के हिस्से के राशन खा गए।’ इनका यह बयान सीएम योगी द्वारा विपक्ष पर हमला बोलने के लिए ‘अब्बा जान’ शब्द का प्रयोग करने के बाद आया।

उमर अब्दुल्ला ने वीडियो किया शेयर

उमर अब्दुल्ला ने सीएम योगी के बयान का वीडियो शेयर करते हुए लिखा है कि ‘मेरा हमेशा से ये मानना रहा है कि भाजपा के पास चुनाव लड़ने के लिए सांप्रदायिकता और नफरत के अलावा कोई एजेंडा नही हैं। उनका सारा जहर मुसलमानों के लिए होता है। यहां एक सीएम फिर से चुनाव जीतने के लिए दावा कर रहे हैं कि मुसलमान हिंदुओं के हिस्सें का भी राशन खा गए हैं।’

देखें यह वीडियो

 

योगी ने कहा ‘अब्बा जान’ वाले खा जाते थे राशन

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कुशीनगर में एक जनसभा को संबोंधित करते हुए विपक्ष पर जमकर हमला बोला। इस दौरान एक बार फिर उन्होंने विपक्षी पार्टियों पर निशाना साधने के लिए ‘अब्बा जान’ शब्द का प्रयोग किया।

प्रधानमंत्री ने बदले देश के एजेंडे

सीएम योगी ने कुशीनगर में कहा कि ’पीएम मोदी ने देश के राजनीतिक एजेंडो बदला। जो राजनीति परिवारवाद, वंशवाद, जातिवाद तक सीमित थी पीएम मोदी ने उसे समाज के प्रत्येक तबके लिए पहुंचाया। पीएम मोदी के नेतृत्व में तुष्टिकरण की राजनीति के लिए कोई जगह नहीं है। पीएम मोदी के नेतृत्व में भाजपा सबका साथ, सबका विकास और सबका विश्वास को लेकर चल रही है।’

यह भी पढ़े

 

शेयर बाजार में गिरावट, सेंसेक्स 58,100 और निफ्टी 17,350 के नीचे फिसला

 

सीएम योगी का बयान

इस दौरान सीएम योगी ने जनता से कहा कि ’आप सभी को राशन मिलता है कि नहीं। क्या 2017 से पहले भी राशन मिलता था, तब तो ‘अब्बा जान’ कहने वाले लोग राशन हजम कर जाते थे। तब कुशीनगर का राशन नेपाल और बांग्लादेश पहुंच जाता था। आज कोई भी गरीबों का राशन नहीं निगल सकता है।’

Related posts

महाराजा सुहेलदेव की जयंती का भव्य कार्यक्रम, मोदी-योगी रहे मौजूद

Aditya Mishra

वन नाइट स्टैंड को शादी का दर्जा नहीं: बॉम्बे हाई कोर्ट

Rani Naqvi

मुशर्रफ के खिलाफ गिरफ्तारी का आदेश जारी,संपत्तियां होंगी जब्त

Vijay Shrer