Breaking News featured यूपी

अखिलेश यादव ने भाजपा को बताया चमत्कारी पार्टी और अमित शाह को भविष्‍यवक्‍ता

अखिलेश यादव ने भाजपा को बताया चमत्कारी पार्टी और अमित शाह को भविष्‍यवक्‍ता  

लखनऊ: समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने भारतीय जनता पार्टी को चमत्‍कारी पार्टी बताते हुए तंज कसा है। सोमवार को प्रेस रिलीज जारी करते हुए उन्‍होंने कहा कि, भाजपा सचमुच चमत्कारी पार्टी है। वह कब कौन रूप धारण कर ले कहना मुश्किल है।

केंद्रीय गृहमंत्री शाह को बताया भविष्‍यवक्‍ता

सपा सुप्रीमो ने कहा कि, भाजपा नेतृत्व बड़े-बड़े वादे करें, जनता को बहलाने का गुण जानता है। समाजवादी पार्टी के कामों पर अपना ठप्पा लगा कर भ्रम पैदा करने में माहिर हैं। अब केंद्रीय मंत्री जी ने भविष्यवक्ता का भी रूप धारण कर लिया है। लोकतंत्र में जनता मतदान से सरकार बनाती है, लेकिन केंद्रीय गृहमंत्री जी ने बिना चुनाव मैदान में उतरे ही भविष्यवाणी कर दी है कि विपक्ष को वर्ष 2022 में करारी हार के लिए तैयार रहना चाहिए। यानी भाजपा राज में न अपील, न वकील और न दलील की कथा चलेगी। तानाशाही मानसिकता इसी को तो कहते हैं।

अखिलेश यादव ने कहा कि, समझ में नहीं आता कि प्रधानमंत्री जी हों या गृहमंत्री जी उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री जी की किस बात के लिए तारीफ करते हैं। कोरोना संक्रमण के दौर में उत्तर प्रदेश में मौतों का ऐसा सिलसिला चला कि शवदाह गृहों में लाशें जलाने की जगह भी नहीं बची। अस्पतालों में बेड, दवा और इलाज का अकाल पड़ गया। इंजेक्शन और जीवन रक्षक दवाएं कालाबाजारी में ही उपलब्ध थी। ऑक्सीजन की कमी से अस्पतालों में तमाम सांसें उखड़ गई। हर तरफ चीख-पुकार और हाहाकार मचा था।

लॉकडाउन से जनजीवन हुआ अस्‍त-व्‍यस्‍त: अखिलेश

यूपी के पूर्व सीएम ने कहा कि, कोविड-19 के दौर में लॉकडाउन लगने से जनजीवन अस्त-व्यस्त हो गया। दूसरे प्रदेशों से पलायन में भूखे-प्यासे लाखों श्रमिकों को अपने गांव पहुंचने के लिए कोई साधन नहीं मिला। कितनों की जिंदगी की सांसें ही रास्ते में थम गईं। हजारों की नौकरियां छिन गईं। राज्य सरकार इनकी मदद करने के बजाय मूकदर्शक बनी रही। सरकारी बस सेवा ध्वस्त रही। आफत के मारे लोगों से भी वसूली की जाती रही।

अखिलेश यादव ने कहा कि, केंद्रीय गृहमंत्री जी मुख्यमंत्री जी को प्रशंसा-पत्र बांटते समय भूल गए कि भाजपा राज में महिलाओं और बच्चियों के साथ दुष्कर्म की घटनाओं की बाढ़ आ गई है। लूट, अपहरण, हत्या रोज की वारदातें हो गई है। व्यक्ति का जीवन-मरण तय करने का काम संरक्षित अपराधियों को मिला हुआ है। समाज में नफरत का माहौल है। लोक त्रस्त हैं।

नौजवान बेरोजगारी से परेशान: सपा सुप्रीमो

उन्‍होंने कहा कि, अच्छा होता अपनी जीत का हवाई सपना देखने वाले केंद्रीय गृहमंत्रीजी और मुख्यमंत्री जी इस बात की भी नोटिस ले लेते कि उन्होंने किसानों के साथ जो धोखाधड़ी की है, उससे किसान आंदोलन व्यापक होता जा रहा है। किसान को न तो एमएसपी मिली, नहीं उसकी आय दुगनी हुई। उल्टे काले कृषि कानून किसान को खेत मालिक की जगह खेत मजदूर बना देंगे। नौजवान बेरोजगारी से परेशान हैं। उनका भविष्य अंधकारमय है।

22 में बनने जा रही सपा सरकार: अखिलेश  

सपा के राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष ने कहा कि, ऐसी कौन सी विशेष बात भाजपा राज में हुई है कि जनता उसके लिए मुख्यमंत्री जी के नाम पर ताली पीटेगी। हर मोर्चे पर तो भाजपा सरकार विफल रही है। गरीब ज्यादा गरीब हुआ है, मंहगाई ने उसकी कमर तोड़ दी है। चंद पूंजीघरानों की सम्पत्ति लॉकडाउन के समय में भी कई गुना बढ़ गई। सच तो यह है कि देश की सम्पत्ति को दो लोग बेच रहे हैं और दो लोग खरीद रहे हैं। देश की सारी अर्थव्यवस्था इन्हीं घरानों में कैद करने की साजिशें हो रही है। जनता इससे पूरी तरह वाकिफ है और वह तय कर चुकी है कि वर्ष 2022 में वह वादाखिलाफी करने वालों को ठीक से सबक सिखाकर सपा सरकार बनाने जा रही है।

Related posts

चक्रवात गुलाब: आंध्र प्रदेश के कई इलाकों में भारी जलजमाव, गुजरात और मध्य प्रदेश में अलर्ट’ जारी

Kalpana Chauhan

पिथौरागढ़: वार्ड बॉय ने स्टाफ नर्स के साथ की अभद्रता, डॉक्टरों ने किया कार्य बहिष्कार

pratiyush chaubey

एससी-एसटी एक्ट में बदलाव को देखते हुए जिला और पुलिस प्रशासन अलर्ट

Rani Naqvi