December 1, 2022 12:41 pm
यूपी

कलेक्ट्रेट में घंटों गुल रही बिजली, अधिकारियों से साधी चुप्‍पी

कलेक्ट्रेट में घंटों गुल रही बिजली, अधिकारियों से साधी चुप्‍पी

फतेहपुर: जिले में बिजली विभाग की लापरवाही किस कदर हावी है, इसका नमूना उस समय देखने को मिला जब बुधवार को घंटों के लिए जिलाधिकारी कार्यालय में अंधेरा छा गया। हालांकि, वैकल्पिक व्यवस्था से कार्यालय में उजाला किया गया। इस दौरान जब अधिशासी अभियंता अमरेंद्र कुमार से जानकारी की गई तो उन्होंने आपूर्ति होने का दावा किया, जबकि विद्युत विभाग खंड एक के अधिशासी अभियंता राम सनेही ने मामले पर मौन साध लिया। ऐसे में सवाल यह है कि जिलाधिकारी कार्यालय में बिजली जाने पर जवाब में क्या मौन साध लिया जाएगा?

बुधवार को बारिश के बाद अचानक बिजली गई तो कार्यालय में काम करने वाले कर्मचारियों को अंधेरे में काम करना पड़ा। हालांकि, परिसर में रखे जनरेटर से बिजली आपूर्ति करने का प्रयास किया गया लेकिन सभी जगह जनरेटर से कनेक्शन न होने के कारण कई अनुभागों में अंधेरा छाया रहा। इनमें खाद्य एवं औषधि सुरक्षा प्रशासन, लेखागार, अभियोग अनुभाग सहित कई कार्यालय शामिल हैं। नाम न छापने की शर्त पर एक अधिकारी ने बताया कि, बारिश शुरू होते ही बिजली चली गयी थी। यह करीब दो से ढाई घंटे तक जारी रहा। इस दौरान संबंधित अनुभागों के कर्मचारी बाहर निकलकर हवा लेते रहे। बारिश के कारण मौसम में आर्दता बढ़ गयी, जिससे उमस भी महसूस की जा रही थी। ऐसे में लोगों ने खुद को सामान्य करने का प्रयास किया।

बिजली विभाग के जिम्‍मेदारों ने नहीं की बात

मामले पर जब बिजली विभाग के अधिकारियों से बात करने का प्रयास किया गया तो अमरेंद्र सिंह के अलावा जिम्मेदार अधिकारी ने बात करना भी उचित नहीं समझा। ऐसे में जब जिलाधिकारी कार्यालय को लेकर बिजली विभाग के अधिकारियों का यह रवैया है तो ये अधिकारी दूरस्थ गांवों या अन्य स्थानों पर बिजली कटने पर कैसा व्यवहार किया जाता होगा, यह अपने आप में बड़ा सवाल है। हालांकि, अधिशाषी अभियंता आमरेद्र सिंह से बातचीत करने के करीब दो मिनट बाद ही कलेक्ट्रेट में बिजली आ गयी। तब कार्यालय में काम कर रहे बाबुओं और अन्य कर्मचारियों ने राहत की सांस ली।

Related posts

22 जनवरी तक करना होगा डिजिटल प्रचार, EC ने रैली और रोड शो पर लगी रोक आगे बढ़ाई

Saurabh

वाराणसी: डिप्‍टी सीएम दिनेश शर्मा ने अखिलेश यादव पर कसा तंज      

Shailendra Singh

यूपी: फोन न उठाने पर डीआईजी ने सिपाही को पीटा, तोड़ दिया बैज

bharatkhabar