UP: गर्भवती महिलाओं के वैक्‍सीनेशन के लिए सीएम योगी ने दिए अहम निर्देश  

लखनऊ: सूबे के मुखिया योगी आदित्‍यनाथ ने सोमवार को कोविड-19 के संबंध में गठित समितियों के अध्यक्षों के साथ बैठक की। इस दौरान उन्‍होंने मुख्यमंत्री जी ने कोरोना संक्रमण की नियंत्रित स्थिति के बाद भी एग्रेसिव ट्रेसिंग एवं टेस्टिंग जारी रखने के निर्देश दिए।

गर्भवती महिलाओं के लिए विशेष निर्देश

इस बैठक में मुख्‍यमंत्री योगी ने गर्भवती महिलाओं के वैक्‍सीनेशन को सुविधाजनक ढंग से कराने के लिए व्यवस्था की जाने के निर्देश दिए। साथ ही उन्‍होंने कहा कि, जिलों में चल रहे ‘महिला स्पेशल वैक्सीनेशन बूथ’ के बारे में लोगों की जागरूक किया जाए। गर्भवती महिलाओं और उनके परिजनों से संपर्क करके उनका वैक्‍सीनेशन कराया जाए।

सीएम योगी ने निर्देश देते हुए कहा कि, कोरोना महामारी के दौरान लोगों की स्वास्थ्य और चिकित्सा संबंधी जरूरतों की पूर्ति कतई प्रभावित न हो। बच्चों के नियमित टीकाकरण, गोल्डन कार्ड बनने की प्रक्रिया आदि हेतु वैकल्पिक व्यवस्था की जानी चाहिए। उन्‍होंने कहा कि, सीएचसी-पीएचसी की रंगाई-पुताई, उपकरणों और दवाइयों की उपलब्धता, मैनपावर आदि की समुचित व्यवस्था कराई जाए।

उत्तर प्रदेश के स्वास्थ्य केंद्र एप के लिए जागरुकता के निर्देश

सूबे के मुखिया ने कहा कि, बीते दिन लोकार्पित मोबाइल एप ‘उत्तर प्रदेश के स्वास्थ्य केंद्र’ को और अधिक जनोपयोगी बनाया जाए। वरिष्ठ नागरिकों की स्वास्थ्य सेवाओं को और बेहतर करने की आवश्यकता है। इसके लिए विशेष हेल्पलाइन नंबर 14567 जारी किया गया है, जिसके बारे में जागरुकता फैलाते हुए इसे और उपयोगी बनाने की कोशिश की जाए।

उन्‍होंने कहा कि, विशेष परिस्थितियों में जिन्हें एंबुलेंस या दवा की जरूरत है उन्हें सब कुछ मुहैया कराया जाए। कैंसर की समस्या से ग्रस्त अथवा डायलिसिस के मरीजों के इलाज में कतई देरी न हो। आशा वर्कर्स के माध्यम से इनकी सूची तैयार कर, इनसे संवाद स्थापित किया जाए।

अल्मोड़ा: भारी बारिश का अलर्ट जारी, प्रशासन पूरी तरह से मुस्तैद

Previous article

दो पैकेट में बाढ़ पीड़ितों को मिलेगी राहत सामग्री, जानिए क्या-क्या होगा

Next article

You may also like

Comments

Comments are closed.

More in featured