featured यूपी

नगर निकायों के नवनिर्वाचित सदस्‍यों को सीएम योगी ने दिया कोरोना रोकथाम का मंत्र

CM reviews setting up of MSME units.

लखनऊ: उत्‍तर प्रदेश की राज्‍यपाल आनंदीबेन पटेल और मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ने गुरुवार को नगर निकायों के नव निर्वाचित सदस्यों से संवाद किया। उन्‍होंने यह संवाद वर्चुअल माध्यम से किया।

मुख्‍यमंत्री योगी ने नव निर्वाचित सदस्‍यों से वर्चुअल संवाद के दौरान कहा कि, कोविड संक्रमण की दूसरी लहर में प्रतिबद्धता के साथ आप सभी ने देश की इस लड़ाई को मजबूती से लड़ने में अपना योगदान दिया है। मैं, सबसे पहले आप सबका हृदय से अभिनंदन करते हुए सभी महापौर, चेयरपर्सन और जुड़े हुए सभी अधिकारियों को धन्यवाद देता हूं।

कोरोना की दूसरी लहर से बचाव में यूपी सफल

सीएम योगी ने कहा कि, हम सबका सौभाग्य है कि नगर निकाय से जुड़े हुए सभी 17 नगर निगम समेत 700 नगर निकायों के चेयरमैन और 12,000 से अधिक पार्षदों को राज्यपाल आनंदीबेन पटेल का मार्गदर्शन प्राप्त होगा। उन्‍होंने कहा कि, उत्तर प्रदेश कोविड की दूसरी लहर में अपने आपको बचाने में पूरी तरह सफल रहा है। आज प्रदेश में कोविड पॉजिटिव के सिर्फ 1,200 नए केस आए हैं। प्रदेश में कोविड के एक्टिव केस की संख्या अब महज 25,500 रह गई है।

सूबे के मुखिया ने कहा कि, बरसात के मौसम में थर्ड वेव की आशंका व्यक्त की जा रही है। इस मौसम में कोविड के साथ, जलजनित बीमारियां फैलेंगी तो स्थिति भयावह हो सकती है। इसलिए संक्रामक बीमारियों की रोकथाम हेतु हर नगर निकाय में स्वच्छता, सैनिटाइजेशन व फॉगिंग का कार्य किया जाए। नगर निकायों में प्रतिदिन साफ-सफाई के साथ-साथ कूड़े का निस्तारण भी होना चाहिए। सफाई के बाद सैनिटाइजेशन का कार्य किया जाए। सप्ताह में दो या तीन दिन फॉगिंग का कार्य संचालित किया जाए। यह कार्य संक्रमण की रोकथाम में सहायक होंगे।

निगरानी समितियों के कार्यों की सराहना   

मुख्‍यमंत्री योगी ने कहा कि, हम लोगों ने प्रत्येक जनपद में हर नगर निकाय, नगर निगम, नगर पालिका स्तर पर निगरानी समितियों के गठन की कार्यवाही की थी। कोरोना कालखंड में इन समितियों ने बहुत अच्छा कार्य किया है। नगर निकाय से सटे हुए अंत्येष्टि स्थल, शवदाह गृह और कब्रिस्तान में साफ-सफाई की व्यवस्था रहनी चाहिए। कहीं भी गंदगी न रहे।

मुख्‍यमंत्री योगी ने कहा कि, स्मार्ट सिटी के अंतर्गत जैसे हम नगर निगम में इंटीग्रेटेड ट्रैफिक मैनेजमेंट सिस्टम (ITMS) बना रहे हैं। आप भी अपने नगर निकाय में छोटा से ITMS बना सकते हैं। यह ट्रैफिक व्यवस्था को व्यवस्थित करने के साथ नगर निकाय की सुरक्षा में भी योगदान देगा।

उन्‍होंने नवनिर्वाचित सदस्‍यों से यह भी कहा कि, निराश्रित गाय एवं गो-वंश को सड़क पर न घूमने दें। उनके लिए बनाए गए गो-आश्रय स्थलों पर साफ-सफाई, उपचार, चारे व सर्दी-बारिश से बचाव की व्यवस्था की जाए। इन गायों की वहां पर देखभाल की जाए।

Related posts

एक दिवसीय दौरे पर आज राष्ट्रपति पहुंचेंगे प्रयागराज

Neetu Rajbhar

त्रिपुरा में भगवा राज का उदय, पीएम की मौजूदगी में बिप्लब ने ली शपथ

Vijay Shrer

पाकिस्तान नहीं ओमान के रास्ते बिश्केक गए मोदी, इमरान से नहीं करेंगे मुलाकात

bharatkhabar